• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सुरक्षा बल आतंकवादियों का सामना कर रहे हैं, लेकिन विपक्ष उनसे बहादुरी का सबूत मांग रहा है- मोदी

|

नई दिल्ली- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बालाकोट एयर स्ट्राइक के सबूत मांगने वालों पर जोरदार हमला बोला है। पटना के गांधी मैदान में एक रैली के दौरान उन्होंने कहा कि सुरक्षा बल के जवान आतंकवादियों से निपट रहे हैं, लेकिन कांग्रेस और उसके सहयोगियों को उनकी बहादुरी पर संदेह है, इसलिए उनसे सबूत मांगे जा रहे हैं।

दुश्मन को फायदा पहुंचा रहा है विपक्ष-मोदी

दुश्मन को फायदा पहुंचा रहा है विपक्ष-मोदी

गांधी मैदान में पीएम मोदी ने कहा कि "अब उन्होंने एयर स्ट्राइक का सबूत मांगना भी शुरू कर दिया है। कांग्रेस और उसके सहयोगी हमारे जवानों का मनोबल गिरा रहे हैं। वे ऐसा बयान क्यों दे रहे हैं, जिससे हमारे दुश्मनों को फायदा पहुंच रहा है।" मोदी ने कहा कि आज हमारे सुरक्षा बल सीमा के अंदर और बाहर दोनों तरफ आतंक के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं। लेकिन, कुछ लोग उनके उत्साह को तोड़ने में लगे हुए हैं।

विपक्ष पर लगाया साजिश का आरोप

विपक्ष पर लगाया साजिश का आरोप

पीएम मोदी ने कहा कि विपक्षी दलों ने हमेशा ही हमारे जवानों की बहादुरी पर संदेह किया है। मोदी के अनुसार,"जिस तरह से उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाया था, उसी तरह से आतंकी कैंप पर हुए एयर स्ट्राइक के भी सबूत मांगे हैं।" मोदी ने कहा कि जिस समय सबको एक होकर बोलने की जरूरत थी, तब भी 21 पार्टियों ने साथ मिलकर एनडीए का विरोध शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि जनता इन चीजों को कभी माफ नहीं करेगी।

उन्होंने विपक्ष पर खुद के खिलाफ साजिश का आरोप लगाते हुए कहा कि आजकल 'चौकीदार' के अपमान का कॉम्पिटीशन चल रहा है, लेकिन यह 'चौकीदार' हमेशा चौकन्ना है। प्रधानमंत्री ने बिना नाम लिए पाकिस्तान को भी चेतावनी दी और कहा कि भारत अब अपने बहादुर जवानों की शहादत पर चुप बैठने वाला नहीं है।

दिग्विजय सिंह ने मांगे थे सबूत

दिग्विजय सिंह ने मांगे थे सबूत

शनिवार को वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने केंद्र सरकार से बालाकोट स्थित जैश ए मोहम्मद आतंकी कैंप पर हुए एयर स्ट्राइक के सबूत मांगे थे। गौरतलब है कि भारतीय वासुयेना के विमानों ने बीते 26 फरवरी को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में जैश के आतंकी ट्रेनिंग कैंप को बम गिराकर तबाह कर दिया था। अभी तक की जानकारी के अनुसार इस कार्रवाई में जैश की चार इमारतें नेस्तोनाबूद हो गई थीं।

इस मौके पर मोदी ने बिहार में नीतीश कुमार और सुशील मोदी की अगुवाई में हो रहे विकास कार्यों की भी खूब सराहना की।

मोदी ने सिर्फ भारत के लिए हज कोटा बढ़ाने और 850 भारतीय बंदियों की रिहाई के लिए सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को भी धन्यवाद दिया।

इसे भी पढ़ें- जैश-ए-मोहम्मद का मुखिया, मोस्ट वांटेंड आतंकी मसूद अजहर की मौत- रिपोर्ट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Security forces are facing terrorists, but the opposition is demanding proof of bravery narendra modi
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X