• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

महिला दिवस 2019 : जैसलमेर बॉर्डर पर बेटियां, 'दुश्मन गलती से भी आ गया इधर तो जिंदा नहीं जाएगा'

By गणपत दैया
|
    Jaisalmer Border पर तैनात Women's Army के डर से कांपता है Pakistan, WATCH VIDEO | वनइंडिया हिंदी

    Jaisalmer News जैसलमेर। 8 मार्च को पूरी दुनिया विश्व महिला दिवस मना रही है। इस मौके पर आधी आबादी का यह पूरा सच भी जान लो कि ये कोमल है लेकिन कमजोर नहीं। इस बात का उदाहरण भारत-पाकिस्तान इंटरनेशनल बॉर्डर पर तैनात बेटियां भी हैं। पाक को उसकी हर नापाक हरकत का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए ये बेटियां 24 घंटे तैयार रहती हैं।

    Jaisalmer : बॉर्डर इलाके में अचानक बढ़ गए 'पागल', जानिए ये पाक जासूस हैं या कोई और?

    Women's Day Special : प्रतिभा पूनिया 6 बार हुई फेल, फिर IAF में बनी फाइटर पायलट

    भारत-पाक बॉर्डर की 471 KM सीमा जैसलमेर में

    भारत-पाक बॉर्डर की 471 KM सीमा जैसलमेर में

    वैसे भी पुलवामा हमला और एयर स्ट्राइक के बाद से भारत-पाकिस्तान के बीच तनावपूर्ण माहौल है। ऐसे में राजस्थान के 1037 किलोमीटर लम्बे बॉर्डर में से जैसलमेर ​के 471 किलोमीटर में तैनात इन बेटियों का हौसला ऐसा है कि अगर सरहद पार से हिन्दुस्तान का कोई भी दुश्मन गलती से भी सीमा लांघ गया तो वो जिंदा वापस नहीं जाएगा।

    Women's Day 2019 : एमपी का मदन महल 'पिंक' रेलवे स्टेशन घोषित, सभी पदों पर महिलाएं

    400 बेटियां कर रही सीमा की हिफाजत

    400 बेटियां कर रही सीमा की हिफाजत

    बता दें कि सहरदी जिले जैसलमेर में भारत-पाक बॉर्डर की लगभग 400 बेटियां हिफाजत कर रही हैं। सीमा सुरक्षा बल की यह महिला फोर्स रेत के समंदर में दुश्मन पर बाज की नजर रखे हुए हैं। ये इतनी प्रशिक्षित हैं कि इनके होते हुए दुश्मन भारत की ओर आंख उठाकर भी नहीं देख सकता। बॉर्डर पार करके इधर जाना तो दूर की बात है।

    जिले की सुरक्षा भी महिला के हाथ में

    जिले की सुरक्षा भी महिला के हाथ में

    ( Mahila diwas 2019 ) सरहद और पर्यटन के लिहाज से महत्वपूर्ण जैसलमेर जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी भी महिला के हाथ है। इस समय जैसलमेर की एसपी किरण कंग (Jaisalmer SP Dr. Kiran Kang) है। इन्होंने जैसलमेर की पुलिस अधीक्षक बनते ही महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देते हुए सभी पुलिस थानों में महिला पुलिस कर्मी भी तैनात की हैं।

    राजनीति के मैदान में भी नारी शक्ति

    राजनीति के मैदान में भी नारी शक्ति

    (Rajasthan Women Politicians) बात अगर बॉर्डर की सुरक्षा और​ जिले की कानून व्यवस्था के अलावा करें तो राजनीति के मैदान में भी नारी शक्ति नजर आती है। जैसलमेर जिला प्रमुख के पद पर अंजना मेघवाल आसीन हैं। इनके अलावा शहर की प्रथम नागरिक नगर परिषद सभापति पद पर कविता खत्री है, जो पिछले चार साल से सभापति की जिम्मेदारी बखूबी निभा रही है।

    नशेड़ी नीलगाय: अफीम का नशा करने के बाद खेतों में दिखाती है 'स्टंट', किसान परेशान, देखें VIDEO

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    women soldiers on india pakistan Border in Jaisalmer
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more