• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Corona इफेक्ट: सोना तोड़ेगा सारे रिकॉर्ड, 82000 रु के पार जाएगी 10 ग्राम Gold की कीमत

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। चीन से निकलकर कोरोना वायरस(Coronavirus) ने दुनियाभर के देशों को अपनी चपेट में ले लिया है। कोरोना की वजह से अमेरिका जैसे शक्तिशाली देश की अर्थव्यवस्था हिली हुई है। वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन किया गया है। ऐसे में वैश्विक इकोनॉमी डमाडोल है। वर्तमान में बाजार की स्थिति निवेशकों को स्टॉक और बॉण्ड्स की ओर आकर्षित नहीं कर पा रही है। ऐसे सोना सुरक्षित निवेश के तौर पर निवेशकों को लुभा रही है। बैंक ऑफ अमेरिका सिक्योरिटी( BofSec) के वैश्विक बाजार में सोने की कीमत 3000 डॉलर प्रति औंस तक पहुंच जाएगी। सोना निवेशकों के लिए पहली पसंद बन रहा है, जो इसकी कीमत में रिकॉर्ड उछाल की पहली वजह के तौर पर सामने आया है।

<strong>सोने के दामों में जोरदार तेजी, 1 साल में कीमत में 47.5% की बढ़ोतरी, जानिए आज का सोने का भाव</strong>सोने के दामों में जोरदार तेजी, 1 साल में कीमत में 47.5% की बढ़ोतरी, जानिए आज का सोने का भाव

 सोने की कीमत में रिकॉर्ड उछाल, कीमत 82000 के पार

सोने की कीमत में रिकॉर्ड उछाल, कीमत 82000 के पार

कोरोना वायरस के कारण घोषित लॉकडाउन के दौरान भले आप सोने-चांदी की खरीददारी नहीं कर पा रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद भी उनकी कीमतों में भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। गुरुवार को सोना एक बार फिर से सोना 46000 के पार पहुंच गया है। ये पांचवा मौका था जब सोने की कीमत 46000 रुपए के पार पहुंच हईआ. वहीं वैश्विक बाजार में सोने की कीमत 3000 डॉलर प्रति औंस तक पहुंचने के आसार हैं। निवेश के विकल्प के तौर पर स्टॉक और बॉन्ड्स की मौजूदा बाजार स्थितियों को देखते हुए निवेशक सोने में पैसा लगा रहे हैं। सोना हमेशा से सुरक्षित निवेश माना जाता रहा है।

 क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

बैंक ऑफ अमेरिका सिक्योरिटीज (बोफा सेक) के बाजार जानकारों के मुताबिक वैश्विक बाजार में सोने की कीमत साल 2021 के अंत तक 3,000 डॉलर प्रति औंस तक पहुंच जाएगी। इसे भारतीय बाजार के परिपेक्ष में देखें तो साल 2021 तक सर्राफा बाजार में सोने की कीमत 82,000 रुपए प्रति 10 ग्राम तक पहुंच जाएगी। सोने की कीमत में ये रिकॉर्ड बढ़ोतरी होगी। इतिहास में पहला मौका होगा जब सोने की कीमत 82000 रुपए प्रति 10 ग्राम के पार पहुंचने की संभावना है। ऐसे में सोने में निवेश करने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी है। 1 साल के भीतर सोने में निवेश से दोगुना लाभ कमाने कीा उम्मीद है।

 क्यों आई सोने-चांदी की कीमत में तेजी

क्यों आई सोने-चांदी की कीमत में तेजी

कोरोना वायरस के कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। ऐसे में निवेश के खतरों को देखते हुए निवेशक सुरक्षित निवेश की तलाश कर रहे हैं। पीली धातु सोना हमेशा से निवेशकों के लिए सुरक्षित निवेश रहा है। ऐसे में निवेशकों के रुझान बढ़ने से सोने की कीमत में तेजी आई है। लेकिन इसके बावजूद इसकी कीमतों में भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है। कोरोना वायरस महामारी ने दुनियाभर की अर्थव्यवस्थाओं को चिंता में डाल दिया है। वहीं इसका असर अभी और लंबा होने वाला है। कोरोना और लॉकडाउन के कारण बाजार को पटरी पर लाने में वक्त लगने वाला है। ग्लोबल एजेंसियां भी मंदी की बात कह रही है। इस तरह की अस्थिरता से निपटने के लिए सोना सेफ हैवन बन रहा है. वहीं यह महंगाई में हेजिंग के रूप में भी काम करता है। HDFC सिक्योरिटीज के सीनियर एनालिस्ट तपन पटेल के मुताबिक कोरोना वायरस के कारण दुनियाभर के शेयर बाजार कोरोना वायरस से घबराए हुए हैं। ऐसे में निवेशक सोने को सेव इंवेस्टमेंट के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं, जिसकी वजह से पीली धातु की कीमत अभी बढ़ रही है, जो आगे भी जारी रहने की उम्मीद है।

English summary
Gold Reach on Record High, may zoom at Rs 82000 per 10 Gram at the end of 2021 for the first time in History.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X