• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Covid-19 प्राकृतिक नहीं, बल्कि यह एक लैब से निकला वायरस है: नितिन गडकरी

|

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पूरी दुनिया में कहर बरपा रहे जानलेवा नोवल कोरोनावायरस को एक लैब निर्मित वायरस करार दिया है। उन्होंने कहा कि यह एक प्राकृतिक वायरस नहीं है, बल्कि एक कृत्रिम वायरस है, जो प्रयोगशाला से निकला है। साथ ही, उन्होंने कहा, हमें कोरोना के साथ रहने की कला को समझना होगा।

दिल्ली: 10 दिन में तैयार हुई दुनिया की सबसे बड़ी Covid-19 केयर फैसिलिटी के बारे में सबकुछ जानिए

nitin

एक टीवी चैनल से चर्चा के दौरान केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सभी देश Covid19 के इलाज के लिए एक टीका बनाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं और वैक्सीन की मदद से ही वायरस के भय को दूर कर समस्या का समाधान कर सकते हैं।

चीन में 15 नए Covid19 मामलों की सूचना, वुहान शहर की पूरी आबादी की परीक्षण योजना

nitin

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी बुधवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा कोरोनोवायरस और लॉकडाउन संकट से जूझ रहे छोटे कारोबारियों के लिए की घोषणाओं पर प्रतिक्रिया के दौरान उक्त बातें कहीं। वित्त मंत्री द्वारा की गई घोषणाओं पर गडकरी ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि परिस्थितियों में सकारात्मकता लाना एक चुनौती थी।

बिजली वितरण कंपनियों (DISCOMs) के लिए 90, 000 करोड़ की इमरजेंसी लिक्विडिटी की घोषणा

nitin

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों के प्रभारी मंत्री गडकरी ने कहा कि प्रवासी मजदूर डर की वजह छोड़कर अपने-अपने घर चले गए है। उन्होंने उम्मीद जताई कि जब कारोबार फिर से शुरू होगा तब फिर प्रवासी मजूदर काम पर लौट आएंगे।उन्होंने कहा, हमें कोरोनोवायरस से लड़ने की जरूरत है, लेकिन हम एक आर्थिक युद्ध भी लड़ रहे हैं। हम एक गरीब देश हैं और महीने-दर-साल लॉकडाउन नहीं बढ़ा सकते हैं।

97 फीसदी प्रवासी मजदूरों को कैश ट्रांसफर के जरिए नहीं मिला कोई नकद लाभः रिपोर्ट

nitin

उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने कोरोनोवायरस लॉकडाउन द्वारा पस्त पड़ी अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने में मदद के उपायों के रूप में छोटे व्यवसायों के लिए कोलैटरल-फ्री लोन के 3 लाख करोड़ रुपए और गैर-बैंकिंग और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों को 30,000 करोड़ रुपए की लाइफलाइन की घोषणा की है।

सैनिकों की सेवानिवृत्ति उम्र बढ़ाने की तैयारी में हैं CDS जनरल बिपिन रावत, जानिए, क्या है प्लान?

nitin

इसके अलावा सरकार ने गैर-वेतन भुगतान पर टैक्स की दर में 25 फीसदी कटौती की है और कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति निधि पर वैधानिक देयता को पूरा करने के लिए कंपनियों को समर्थन बढ़ाया है। वहीं, विद्युत वितरण कंपनियों को 90,000 करोड़ रुपए का बेलआउट प्रदान किया है और निर्माण से जुड़ी कंपनियों को सरकारी परियोजनाओं को पूरा करने के लिए छह और महीने का समय दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबसे बड़े आर्थिक पैकेज को इन लोगों को किया समर्पित

nitin

गौरतलब है मंगलवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विभिन्न क्षेत्रों में वायरस संकट से निपटने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की थी और बुधवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन द्वारा की गई घोषणाएं आने वाले दिनों में शुरू किए जाने वाले कई उपायों में से एक थी।

Lockdown Effects: पिछले चार दशकों में पहली बार घटा भारत का कार्बन उत्सर्जन

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Union Minister Nitin Gadkari has described the deadly Novel Coronavirus that is causing havoc all over the world as a lab-made virus. He said that it is not a natural virus, but an artificial virus, which originated from the laboratory. Also, he said, we have to understand the art of living with coronaviruses.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more