• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

J&K के पुलवामा में रहता है खान बासित बिलाल, इंटरनेट की दिक्कत के बावजूद NEET में आए 720 में से 695 अंक

|

श्रीनगर। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने नीट (राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा) अंडर ग्रेजुएट परीक्षा का रिजल्ट शुक्रवार को जारी कर दिया है। इस परीक्षा को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में रहने वाले 18 साल के खान बासित बिलाल ने भी पास कर लिया है। खास बात ये है कि बासित पुलवामा में रहते हैं, जहां इंटरनेट को लेकर काफी दिक्कतें हैं। बावजूद इसके उन्होंने परीक्षा बेहद अच्छे नंबरों से पास की है। बासित का कहना है कि जब से उनका रिजल्ट आया है, तभी से उनके घर पर लगातार फोन बज रहा है। लोग उन्हें इस कामियाबी के लिए बधाई दे रहे हैं।

kashmir, neet, Jammu and kashmir, Kashmir, Kashmir News, Latest News, pulwama news, pulwama, neet exam, neet result, khan basit bilal, जम्मू कश्मीर, पुलवामा, खान बासित बिलाल, पुलवामा न्यूज, नीट, नीट परीक्षा, नीट रिजल्ट 2020

बासित को नीट 2020 परीक्षा में 720 में से 695 अंक मिले हैं। पुलवामा के एक पढ़े लिखे परिवार से आने वाले बासित हमेशा से ही पढ़ाई में मेधावी छात्र रहे हैं। वह बचपन से ही डॉक्टर बनना चाहते थे और तभी वह श्रीनगर आ गए। यहां उन्होंने एक कोचिंग इंस्टीट्यूट में दाखिला लिया और नीट की तैयारी की। बासित के पिता बिलाल अहमद खान का कहना है, 'उसे एमबीबीएस में रुची रही है। उसने ये सब हासिल करने के लिए काफी मेहनत की है।' बासित के लिए परीक्षा पास करना इसलिए भी मुश्किल भरा रहा क्योंकि जहां वो रहता है, वहां इंटरनेट नहीं था, कोई संवाद नहीं कर पा रहा था और बार बार लॉकडाउन लग रहा था। बावजूद इसके बासित ने उम्मीद नहीं छोड़ी और ये सफलता हासिल की।

बिलाल का कहना है, 'उसे बहुत परेशानी हुईं। लेकिन मैं कोचिंग इंस्टीट्यूट के फैकल्टी का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने उसकी बहुत मदद की। जब भी उसे कोई परेशानी होती थी तो वो उसकी मदद करते थे। फैकल्टी हमेशा उसकी मदद करती थी। इसी वजह से वह सारी पेरशानियों के बावजूद आगे निकल पाया है।' आपको बता दें बासित उन 25000 छात्रों में शामिल हैं, जो 13 सितंबर को कश्मीर में नीट परीक्षा में शामिल हुए थे। नीट परीक्षा कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से कई बार स्थगित हुई है। यह परीक्षा श्रीनगर, बडगाम और गांदरबल जिलों में लगभग 70 केंद्रों में आयोजित की गई थी।

बासित ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'मैं अल्लाह का आभारी हूं जिन्होंने मुझे ये सफलता दी। मैं अपने माता-पिता का भी शुक्रगुजार हूं जिन्होंने इस दौरान मेरा साथ दिया। मैं अपने शिक्षकों का भी शुक्रगुजार हूं। मैंने 11वीं कक्षा से नीट की तैयारी शुरू की थी। मुझे विश्वास था कि मैं नीट को क्रैक कर लूंगा, लेकिन मैंने कभी भी 700 अंक हासिल करने की कल्पना नहीं की थी। यह कोचिंग सेंटर की वजह से हुआ है, जिसने मेरी स्किल का सम्मान किया है।'

NEET 2020 Topper Shoyeb Aftab: शोएब आफताब से जानिए कैसे की थी उन्‍होंने परीक्षा की तैयारी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
jammu kashmir pulwama boy got 695 marks out of 720 despite internet problem in neet exam
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X