• search
उज्जैन न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उज्जैन : महाकाल मंदिर में भस्म आरती को लेकर फिर उठा महिलाओं से जुड़ा विवाद

|

Ujjain News, उज्जैन। देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक उज्जैन का महाकाल मंदिर हमेशा अपनी विशेषताओं के लिए सुर्खियों में रहता है। भस्म आरती के दौरान अर्धनारेश्वर महाकाल बाबा के दर्शन करने देश-विदेश से लाखों श्रद्धालु उज्जैन पहुंचते हैं, लेकिन इस बार भस्म आरती में महिलाओ को भस्म चढ़ाते हुए नहीं देखने देने की बात पर सवाल उठा है।

mahakal temple bhasm aarti controversy

भस्म आरती में महिलाओं का प्रवेश निषेध कर दिए जाने की मांग की गई है। यह बात हमेशा सुर्खियों में बने रहने वाले महानिर्वाणी अखाड़े के निष्कासित संत अवधेश पूरी ने कही है। विरोध में उज्जैन की महिला ने बाबा महाकाल को संत को सद्बुद्धि के लिए ज्ञापन भी दिया है।

mahakal temple bhasm aarti controversy

भ्रष्टाचार के भी आरोप लगाए

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार अवधेश पुरी महाराज ने बाबा महाकाल की भस्म आरती के लिए बनाई गई व्यवस्था पर सवाल उठाया है। मीडिया से बातचीत में अवधेशपुरी ने कहा कि भस्म आरती के नाम पर भष्टाचार हो रहा है, वहीं दर्शन के पास बनाने के लिए मंदिर के आसपास दलालों का एक गिरोह सक्रिय है, जो भक्तों को ठगने का काम करता है। पिछले दिनों मंदिर परिसर में कई दलालों का पकड़ा जाना इसका जीता-जागता सबूत है।

'दबंग' देते रहे जान से मारने की धमकी और दलित मामा-भांजे ने घोड़ी पर बैठकर निकाल के दिखाई बारात

अवधेश पुरी महाराज कहते हैं कि भस्म आरती के लिए अनुमति प्रथा को समाप्त कर देना चाहिए। इन्होंने भस्म आरती के समय मंदिर प्रशासन की उस परंपरा का भी विरोध किया है जिसमें महिलाओं को भस्म आरती के समय मुंह ढंकने के लिए कहा जाता है। इस संबंध में उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र भी लिखा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
mahakal temple bhasm aarti controversy
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X