• search
आगरा न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

MI-17 हेलीकॉप्टर क्रैश में शहीद हुए पंकज कुमार का पार्थिव शरीर आगरा पहुंचा, श्रीकांत शर्मा ने दी श्रद्धांजलि

|

Agra news, आगरा। जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले में बुधवार सुबह भारतीय वायुसेना का Mi-17 V5 हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस हादसे में मथुरा जिले के पंकज कुमार शहीद हो गए। गुरुवार की शाम शहीद पंकज कुमार का पार्थिव शरीर आगरा एयरपोर्ट पर लाया गया, जहां यूपी के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने श्रद्धांजलि दी। शहीद के पार्थिव शरीर को उनके घर मथुरा के लिए भेजा गया।

martyr of budgam aircraft crash pankaj kumar

जम्मू-कश्मीर के बडगाम में हुए विमान क्रैश में मथुरा के नौहझील बाजना के जरेलिया गांव के रहने वाले पंकज कुमार भी शहीद हो गए। शहीद पंकज एयरफोर्स की वन बिग बटालियन में एयरमैन पद पर तैनात थे। पंकज के शहीद होने की सूचना पंकज के पिता को फोन पर मिली। पंकज के पिता नोहबत सिंह भी सेवानिवृत सूबेदार हैं। पंकज के शहीद होने की खबर मिलते ही परिवार के साथ मथुरा के बालाजी पुरम के सारंग बिहार स्थित आवास पर गमहीन माहौल में तब्दील हो गया। पंकज के शहीद होने की खबर के बाद उनके घर पर लोगों का तांता परिजनों को सांत्वना देने में जुट गया।

martyr of budgam aircraft crash pankaj kumar

शहीद पंकज 2012 में सेना में भर्ती हुए थे। वह दो भाईयों में बड़े थे। छोटा भाई अजय अभी पढ़ाई कर रहा है। पंकज की शादी 2015 में हुई थी और उसके डेढ़ साल का बेटा रुद्र है। अपने दो बेटों में से बड़े बेटे पंकज की शहादत पर उसके पिता नोहबत सिंह को गर्व है और 30 साल सेना में रहकर देश की सेवा करने वाले नोहबत सिंह आज भी मांग करते है कि पाकिस्तान से एक बार आर पार कर लेनी चहिए।

ये भी पढ़ें: MI-17 हेलीकॉप्टर क्रैश में मथुरा का लाल पंकज हुआ शहीद, परिजन बोले अब आर या पार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
martyr of budgam aircraft crash pankaj kumar
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X