• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नए मामलों में बदल रहे कोरोना के लक्षण, शरीर के लिए हुआ पहले से ज्यादा खतरनाक

|

नई दिल्ली: चीन के वुहान से शुरू हुए कोरोना वायरस ने साढ़े चार महीनों में ही 50 लाख से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। अब तक 3.28 लाख लोग इस बीमारी से जान गंवा चुके हैं। अभी तक वैज्ञानिक पूरी तरीके से कोरोना को समझे भी नहीं थे कि वायरस ने खुद को बदलना शुरू कर दिया गया है। चीन के पूर्वोत्तर राज्यों में कोरोना फिर से पांव पसार रहा है। इस बार कोरोना के लक्षण बदल रहे हैं, जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। वहीं वायरस अब शरीर को पहले से ज्यादा नुकसान पहुंचा रहा है।

पूर्वोत्तर में आए नए मामले

पूर्वोत्तर में आए नए मामले

चीनी मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक जिलिन और हेईलांगजिआंग में जो मरीज मिले हैं, उनमें पहले से अलग लक्षण दिख रहे हैं। क्रिटिकल केयर मेडिसिन के विशेषज्ञ क्यिू हाएबो के मुताबिक पूर्वोत्तर में जो मरीज मिल रहे हैं, इनका इनक्यबेशन पीरियड लंबा है, यानि नए मरीजों में लक्षण देर से दिख रहे हैं। हाएबो के मुताबिक जब लक्षण देर से दिखते हैं, तो संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने वाले लोगों को खतरा ज्यादा रहता है। वहीं नए मरीजों में वायरस पहले की तुलना में ज्यादा देर तक रहता है। ऐसे में शरीर को ज्यादा नुकसान पहुंचा सकता है। वहीं पूर्वोत्तर में जो मरीज आए हैं, उनमें से बहुत कम ही लोगों को बुखार हुआ है। इस दौरान वायरस सिर्फ फेफड़ों पर हमला करके उसे नुकसान पहुंचा रहा है। ज्यादातर मामलों में शरीर के बाकी अंग ठीक रहते हैं।

क्या कहते हैं विशेषज्ञ?

क्या कहते हैं विशेषज्ञ?

चीनी विशेषज्ञों के मुताबिक कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद वुहान को सील कर दिया गया था। वहां से किसी को आने-जाने की इजाजत नहीं थी। हाल ही में कई लोग विदेशों से आए हैं, जो बाद में कोरोना पॉजिटिव निकले। चीन के पूर्वोत्तर इलाके की सीमा रूस से लगती है। ऐसे में हो सकता है कि यहां पर विदेशों से वायरस आया हो। जिस वजह से वुहान और यहां के वायरस में अंतर दिख रहा हो। वायरस का ये बदलता स्वरूप वैज्ञानिकों की भी समझ में नहीं आ रहा है। विशेषज्ञों के मुताबिक अगर लक्षण देर से दिखे तो संक्रमण को रोकने में दिक्कतें आ सकती हैं।

देश में अब इन लोगों की तुरंत होगी कोरोना जांच, ICMR ने जारी की नई गाइडलाइन

WHO ने भी बताए थे नए लक्षण

WHO ने भी बताए थे नए लक्षण

हाल ही में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने कोरोना को लेकर नई चेतावनी जारी की थी। जिसके मुताबिक कोरोना पॉजिटिव इंसान को बोलने में काफी परेशानी होती है, अगर किसी व्यक्ति में ऐसे लक्षण नजर आ रहे हैं तो उसे तुरंत डॉक्टर की मदद लेनी चाहिए, जबकि इससे पहले नेशनल हेल्थ सर्विस ने कहा था कि कोरोना के शुरुआती लक्षण खांसी और बुखार हैं। बोलने के अलावा कुछ मरीजों को चलने में भी दिक्कत हो रही है। ऐसे में सभी को इन दो लक्षणों पर भी ध्यान देना चाहिए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
symptoms of corona changed in northeastern states of China
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X