• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

प्रवासियों की मदद के लिए प्रियंका के प्रस्ताव को योगी सरकार ने किया स्वीकार, CM ने दागे ये चार सवाल

|

लखनऊ। लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों की आवाजाही को लेकर राजनीति अब गरमा गई है। राजनीतिक दल एक-दूसरे पर हमलावर हो गए हैं। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रवासी मजदूरों, कामगारों की समस्या पर कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि वह ओछी राजनीति कर रही है। योगी सरकार ने प्रियंका गांधी का प्रवासी मजदूरों के लिए 1000 बसें चलाने का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया है। एडिशनल चीफ सेक्रेट्री अवनीश अवस्थी ने प्रियंका गांधी के निजी सचिव को पत्र लिख कर 1000 बसों के नंबर और उनके ड्राइवरों की लिस्ट मांगी है।

एक के बाद एक दागे चार सवाल

एक के बाद एक दागे चार सवाल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सोमवार को कांग्रेस और बड़ा हमला बोला है। सीएम योगी ने कहा, प्रियंका गांधी जी कहती हैं कि उनके पास 1000 बसें हैं। यह और बात है कि अब तक इन बसों की सूची तक उपलब्ध नहीं कराई गई, न ही हमारे साथियों की। बसों और हमारे साथियों की सूची उपलब्ध करा दी जाए, जिससे उनके कार्य ट्विटर नहीं धरातल पर दिखें। सीएम योगी ने ट्वीट कर एक के बाद एक चार सवाल दागते हुए कहा, मजदूरों की मददगार बनने का स्वांग रच रही कांग्रेस से मजदूर भाइयों और बहनों के कुछ सवाल।

    Delhi - Ghaziabad Border पर जुटे Migrant Labourers, Priyanka Gandhi ने साधा निशाना | वनइंडिया हिंदी
    क्या कांग्रेस और प्रियंका गांधी दुर्घटना की जिम्मेदारी लेंगी?

    क्या कांग्रेस और प्रियंका गांधी दुर्घटना की जिम्मेदारी लेंगी?

    Q 1. जब आपके पास 1000 बसें थीं, तो राजस्थान और महाराष्ट्र से ट्रकों में भरकर हमारे साथियों को उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड व बंगाल क्यों भेज रहे हैं?

    Q 2: औरैया में हुई दर्दनाक सड़क दुर्घटना से पूरा देश आहत है। एक ट्रक पंजाब से और दूसरा राजस्थान से आ रहा था। क्या कांग्रेस और प्रियंका गांधी जी इस दुर्घटना की जिम्मेदारी लेंगी? हमारे साथियों से माफी मांगेंगी?

    Q 3: प्रियंका गांधी जी कहती हैं कि उनके पास 1000 बसें हैं। यह और बात है कि अब तक इन बसों की सूची तक उपलब्ध नहीं कराई गई, न ही हमारे साथियों की। बसों और हमारे साथियों की सूची उपलब्ध करा दी जाए, जिससे उनके कार्य ट्विटर नहीं धरातल पर दिखें।

    Q 4: देशभर में जितनी भी श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चल रही है उनमें से आधी से ज्यादा ट्रेनें उत्तर प्रदेश ही आईं है। अगर प्रियंका वाड्रा जी को हमारी इतनी ही चिंता है तो वो हमारे बाकी साथियों को भी ट्रेनों से ही सुरक्षित भेजने का इंतजाम कांग्रेस शासित राज्यों से क्यों नहीं करा रहीं?

    प्रियंका गांधी ने बसों के परिचालन की अनुमति मांगी थी

    प्रियंका गांधी ने बसों के परिचालन की अनुमति मांगी थी

    बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह किया कि वह प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए कांग्रेस को राज्य की सीमा पर तैयार रखी गईं बसों के परिचालन की अनुमति प्रदान करें। उन्होंने उत्तर प्रदेश के औरैया में सड़क हादसे में 24 प्रवासी मजदूरों की मौत और 36 अन्य के घायल होने के एक दिन बाद टि्वटर पर वीडियो संदेश के माध्यम से यह आग्रह किया।

    प्रियंका ने लगाए थे आरोप

    प्रियंका ने लगाए थे आरोप

    कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने दावा किया, 'कल हमने 1000 बसों का सहयोग देने की बात की, बसों को उप्र बॉर्डर पर लाकर खड़ा किया तो उप्र सरकार को राजनीति सूझती रही और हमें अनुमति तक नहीं दी। 'प्रियंका ने आरोप लगाया, 'विपदा के मारे लोगों को कोई सहूलियत देने के लिए सरकार न तो तैयार है और कोई मदद दे तो उसे लेने से इनकार कर रही है।'

    VIDEO ट्वीट कर प्रियंका ने साधा सीएम योगी पर निशाना, कहा-ओछी राजनीति से नहीं चलेगा काम

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    yogi govt accepts priyanka gandhi proposal asks for details of 1000 buses
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X