• search
झारखंड न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जमशेदपुर: पार्क में देर रात अनीस की बाइक पर पार्क में पहुंचे थे सरोज-सिमरन, लाशें मिलने के बाद 5 गिरफ्तार

|

जमशेदपुर। जुगसलाई थाना क्षेत्र के रेलवे पार्क में सरोज उपाध्याय और सिमरन कुमारी का गोली लगा शव मिला था। शव मिलने के बाद जांच पड़ताल में जुटी पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की मदद से अनीस पांडेय समेत पांच को हिरासत में ले लिया। पूछताछ में अनीस ने बताया कि सरोज और सिमरन को बाइक से उसने पिगमेंट गेट के पास रेलवे पार्क में रात के ढाई बजे छोड़ा था। अगले दिन सुबह में दोनों के शव पुलिस ने बरामद किए थे। सरोज के सिर में तीन गोलियां और सिमरन के सिर में एक गोली लगी थी।

कॉपी में लिखा था- आई एम सॉरी ममा

कॉपी में लिखा था- आई एम सॉरी ममा

सिमरन के पिता राकेश कुमार की मानें तो उन्होंने सिमरन को मंगलवार रात 10 बजे गणित पढ़ाया था। गणित पढ़ाने के सभी लोग सोने के लिए चले गए थे। फिर न जाने कब वह घर से निकल गई। सुबह जब पिता जागे तो मेन गेट खुला देखा। सोचा कि पुत्री टहलने गई होगी। उन्होंने बताया कि कहीं से भी उनके दिमाग में ऐसा कुछ नहीं था कि थोड़ी समय बाद ही उनकी पुत्री के नहीं रहने की खबर आएगी। बताया कि सिमरन ने अपनी गणित की कॉपी में लिखा - आई एम सॉरी ममा। उसकी इस लिखावट को उसके पिता ने तब देखा जब सिमरन की मौत की खबर आ चुकी थी।

कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस पांच लोगों को लिया हिरासत में

कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस पांच लोगों को लिया हिरासत में

जुगसलाई थाना पुलिस ने सरोज उपाध्याय और सिमरन के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल निकाली जो रात में उनसे संपर्क में थे। उस डिटेल के आधार पर पुलिस ने अपनी तफ्तीश शुरू की और पांचों युवकों को हिरासत में ले लिया। पुलिस ने अनीस पांडेय, आदित्य, अमरेंद्र और दो अन्य लोगों को हिरासत में लिया है।

CCTV में दिखे सरोज व सिमरन

CCTV में दिखे सरोज व सिमरन

पुलिस को बागबेड़ा के गाढ़ाबासा में लगे एक सीसीटीवी फुटेज में तीनों बाइक से जाते दिख रहे हैं। पुलिस इस फुटेज को अहम सुराग मान रही है। फुटेज में दिख रहा है कि बाइक अनीस पांडेय चला रहा था। सरोज बीच और सिमरन पीछे बैठी थी। फिलहाल अनीस पांडेय पुलिस हिरासत में है। उसने पूछताछ में पुलिस को बताया कि सरोज उपाध्याय ने मंगलवार रात दो बजे के करीब फोन कर बागबेड़ा लाल बिल्डिंग दुर्गा पूजा मैदान के पास बुलाया था। जब वह पहुंचा सरोज और सिमरन वहां खड़े मिले। उन्‍हें लेकर लाल बिल्डिंग चौक से गाढ़ाबासा बस्ती होते हुए पिगमेंट गेट के पार्क के पास पहुंचा। दोनों को छोडऩे के बाद वह वापस घर लौट गया। अनीस पांडेय ने बताया कि रात ढाई बजे सरोज उपाध्याय से उसकी फोन पर बातचीत हुई थी। सरोज और सिमरन पार्क में ही थे।

English summary
After the bodies of Saroj and Simran were found, the police took 5 people in custody
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X