• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मैसूरु बिशप ने यौन दुर्व्यवहार के आरोप को किया खारिज, कहा- 'मैं जांच के लिए तैयार हूं'

|

मैसूरु। कर्नाटक में मैसूरु बिशप केए विलियम्स पर जिले के विभिन्न पुजारियों से यौन दुराचार और धन के दुरुपयोग करने का आरोप लगा है। इन सभी आरोपों को बिशप ने निराधार बताते हुए कहा है कि वह कानूनी रूप से इन सभी आरोपों को सामना करेंगे। साथ ही जांच के लिए भी तैयार हैं।

karnataka, KA Willam, mysuru bishop, sexual assault

खुद पर लगे आरोपों पर उन्होंने गुरुवार को कहा, 'सभी आरोप निराधार हैं, मैंने पैसे का दुरुपयोग नहीं किया है। इसके साथ ही महिला द्वारा लगाए गए आरोप और कुछ नहीं बल्कि निराधार हैं। मैं कानूनी तौर पर उनका सामना करने के लिए तैयार हूं और मैं जांच के लिए भी तैयार हूं।' बता दें पुजारियों ने पोप फ्रांसिस को इस मामले पर चिट्ठी लिखी थी। इसके साथ ही विलियम्स के खिलाफ आरोपों की जानकारी देते हुए पुजारियों ने मीडिया को भी चिट्ठी की एक प्रति दी थी।

महिला की ओर से शिकायत दर्ज

महिला की ओर से शिकायत दर्ज

मुंबई के एसोसिएशन ऑफ कंसर्नड कैथोलिक (एओसीसी) समूह ने एक महिला की ओर से मैसूरु पुलिस को शिकायत दर्ज कराई है। इस महिला ने वीडियो में विलियम्स और एक अन्य पुजारी लेस्ली मोरिस पर यौन दुराचार का आरोप लगाया है। महिला ने कहा है कि वह 2013 से 2018 तक परिवार आयोग के साथ काम कर रही थी।

महिला ने कहा है कि उसने 2018 में ये नौकरी छोड़ दी क्योंकि विलियम्स उससे शारीरिक संबंध बनाने के लिए कह रहा था। विलियम्ल ने 2017 में कार्यभार संभाला था और तभी से वह परेशान भी कर रहा था। केवल इतना ही नहीं, महिला ने ये आरोप भी लगाया है कि विलियम्स ने उसका दूसरे स्थान पर भी पीछा किया, जहां वह काम करती थी। इलके अलावा उसके परिवार वालों को भी विलियम्स ने धमकी दी थी।

महिला ने कैसे आरोप लगाए?

महिला ने कैसे आरोप लगाए?

महिला ने कहा है, 'मेरे कार्यालय में 27 जुलाई, 2018 को तीन लोग आए थे। तभी मुझे विलियम्य ने फोन कर उन लोगों के साथ जाने को कहा, उसने बोला कि तुम्हारे परिवार में किसी की जान खतरे में है। मैंने जाने से मना कर दिया। फिर उनमें से एक ने मुझे मेरे बेटे का वीडियो दिखाया, फिर मैंने सच जानने के लिए अपनी मां को फोन किया, तो वो सब सच था।'

बात साबित करने के लिए हैं सारे सबूत

बात साबित करने के लिए हैं सारे सबूत

महिला ने आगे कहा, 'मुझे उन लोगों के साथ जाना पड़ा, हम 20 मिनट बाद उस जगह पर पहुंचे थे। मेरा फोन छीन लिया गया। वहां मौजूद विलियम्स, लेस्ली मॉरिस और विजयकुमार (एक अन्य पुजारी) ने मुझे धमकी दी। विलियम्स ने कहा कि वो मेरी जिंदगी खतरे में डाल देगा। उसने मेरा फोन तब वापस किया जब उसने सारा डाटा मिटा दिया।' महिला का ये भी कहना है कि अपनी बात साबित करने के लिए उसके पास सारे सबूत हैं।

आज राइजिंग हिमाचल का शुभारंभ करेंगे पीएम मोदी, 82 हजार करोड़ का हो सकता है निवेश

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
allegations are baseless said mysuru bishop KA Willam on being accused of corruption and sexual assault by priests.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X