• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कांग्रेस की रणनीतिक भिन्नता हुई बेनकाब, असंतुष्ट नेता नीतिगत मुद्दों पर रखेंगे अपनी राय!

|

नई दिल्ली। कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखने वाले कांग्रेस के असंतुष्ट वरिष्ठ नेताओं द्वारा जल्द पार्टी के आधिकारिक मंच से स्वतंत्र राष्ट्रीय मुद्दों पर नियमित बयान जारी करने की संभावना है, यह कदम मोदी सरकार की आलोचना में पार्टी की कमियों को दिखाने के लिए उठाया जा सकता है। असंतुष्ट नेताओं का समूह राहुल गांधी के प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ व्यक्ति टिप्पणियों से नाखुश हैं।

congress

भारतीय सेना ने LOC पर पाकिस्तानी सेना की संदिग्ध बैट कार्रवाई को नाकाम किया

गौरतलब है कांग्रेस के 23 वरिष्ठ नेताओं के समूह ने सोनिया गांधी को संगठनात्मक ओवरहालिंग और सक्षम और दृश्य नेतृत्व के लिए पत्र लिखा था, उन्होंने तय किया है कि केंद्र पर केंद्रित नीतिगत बयानों को पार्टी के साथ-साथ राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी भाजपा को भी संदेश देना जरूरी है। पत्र लेखकों के समूह में एक सदस्य ने कहना है कि ऐसे कई महत्वपूर्ण मुद्दे हैं जिन पर पार्टी चुप है।

sonia

एक अन्य सदस्य ने कहा कि यह देखा जा सकता है कि राहुल गांधी फॉर्म के मुद्दे पर दिखाई देने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन कांग्रेस सरकार होती तो चीन को लद्दाख से 15 मिनट में बेदखल करने की टिप्पणी और पीएम मोदी के बारे में उनकी व्यक्तिगत टिप्पणियां उनमें चालाकी की कमी को फिर दर्शाती है।

हैलो टैक्सी की निदेशक डाइस मेनन गिरफ्तार, निवेशकों के 250 करोड़ लेकर हुई थी फरार

गत मंगलवार को जी -23 के अंदर भी झड़पों के बारे में एक बड़ी चर्चा थी। हालांकि यह दावा किया गया था कि दो पत्र लेखकों में मतभेद था। हालांकि एक अन्य स्रोत ने बताया कि इसमें एक एआईसीसी सदस्य शामिल था। हालांकि अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की जा सकी है।

congress

ऐसा लगता है कि जी-23 उन चुनिंदा पदाधिकारियों के एक कोर समूह को विकसित कर रहा है, जो भविष्य के कदमों के बीच आपस में निपटेंगे, जबकि प्रमुख पदाधिकारी अलग-अलग कारणों से पीछे हो गए है। यह प्रतीत होता है कि कुछ सदस्य पत्र में निर्धारित उद्देश्य या सक्रिय भागीदारी पर दूसरों पर सवाल करते हैं, जबकि उनमें से एक धड़ा नेतृत्व को चुनौती देने या विद्रोही के रूप में खुद को नहीं दिखाना चाहता है।

चिट्ठी लिखने वाले असंतुष्ट नेताओं को सोनिया का सख्त संदेश, संसदीय समिति से बाहर किए कई बड़े नाम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Disgruntled senior leaders of the Congress, who wrote a letter to Congress interim president Sonia Gandhi, are likely to soon issue regular statements on national issues independent of the party's official platform, a move that could be taken to show the party's shortcomings in criticism of the Modi government is. A group of disgruntled leaders are unhappy with Rahul Gandhi's personal remarks against Prime Minister Modi.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X