• search

Author Profile - Devesh Khandelwal

देवेश खंडेलवाल ने भारतीय जन संचार संस्थान से पीजी डिप्लोमा करने के बाद कई मीडिया व शोध संस्थानों में कार्य किया है, जिनमें डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी रिसर्च फाउंडेशन, एकात्म मानव विकास व शोध संस्थान, तथा जम्मू-कश्मीर स्टडी सेंटर प्रमुख हैं। उनके शोध परक लेख अनेक पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होते रहते हैं।

Latest Stories

नेताजी सुभाष चंद्र बोस से ब्रिटेन को डर क्यों लगता था?

नेताजी सुभाष चंद्र बोस से ब्रिटेन को डर क्यों लगता था?

Devesh Khandelwal  |  Monday, September 19, 2022, 16:12 [IST]
दिल्ली के दिल इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा स्थापित हो चुकी है। 8 सितंबर को भारत के प्रधानमंत्री ...
नेहरू, महारानी एलिजाबेथ और भारत की राष्ट्रमंडल सदस्यता

नेहरू, महारानी एलिजाबेथ और भारत की राष्ट्रमंडल सदस्यता

Devesh Khandelwal  |  Saturday, September 10, 2022, 18:56 [IST]
यूनाइटेड किंगडम की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का निधन हो गया है। आज से लगभग सत्तर साल पहले, 2 जून 1953 को उनका राज्याभिष...
राजपथ का नाम कर्तव्यपथ क्यों?

राजपथ का नाम कर्तव्यपथ क्यों?

Devesh Khandelwal  |  Thursday, September 08, 2022, 13:47 [IST]
राष्ट्रपति भवन से इंडिया गेट को सीधे जोड़ने वाले मार्ग का नाम राजपथ से कर्तव्यपथ कर दिया गया है। 1911 में ब्रिटिश साम्...
आईएनएस विक्रांत की खरीददारी में नेहरू ने माउंटबेटन को क्यों शामिल किया?

आईएनएस विक्रांत की खरीददारी में नेहरू ने माउंटबेटन को क्यों शामिल किया?

Devesh Khandelwal  |  Saturday, September 03, 2022, 16:58 [IST]
प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने 25 जून 1956 को लंदन की यात्रा पर गए भारत के रक्षा सचिव एमके वेलोड़ी को एक पत्र लिखा। यह पत...
भारत में इस्लाम: गुर्जर-प्रतिहार एवं चालुक्य सम्राटों का प्रतिरोध

भारत में इस्लाम: गुर्जर-प्रतिहार एवं चालुक्य सम्राटों का प्रतिरोध

Devesh Khandelwal  |  Thursday, September 01, 2022, 16:54 [IST]
आरसी मजुमदार अपनी पुस्तक ‘प्राचीन भारत' में मोहम्मद बिन कासिम के सिंध अभियान का विश्लेषण करते हुए लिखते है, "इस प्...
भारत और इस्लाम: सिंध का अभिशाप एवं मुहम्मद बिन कासिम की हत्या

भारत और इस्लाम: सिंध का अभिशाप एवं मुहम्मद बिन कासिम की हत्या

Devesh Khandelwal  |  Wednesday, August 31, 2022, 16:57 [IST]
अधिकतर इतिहासकारों ने महाराजा दाहिर की मृत्यु के साथ ही सिंध को कासिम द्वारा जीता मान लिया गया है। यह सत्य नहीं है ...
भारत और इस्लाम: महाराजा दाहिर का मुहम्मद बिन कासिम से मुकाबला

भारत और इस्लाम: महाराजा दाहिर का मुहम्मद बिन कासिम से मुकाबला

Devesh Khandelwal  |  Tuesday, August 30, 2022, 13:18 [IST]
661 में उमय्यद वंश के मुआविया ने जब इस्लाम की सर्वोच्च सत्ता हासिल की तो सिंध में भी एक बड़ा परिवर्तन हो गया। महाराजा च...
भारत और इस्लाम: शुरुआती दौर में भारत की सेनाओं से अरबों में घबराहट

भारत और इस्लाम: शुरुआती दौर में भारत की सेनाओं से अरबों में घबराहट

Devesh Khandelwal  |  Sunday, August 28, 2022, 17:44 [IST]
632 ईसवी में पैगम्बर मुहम्मद के निधन के बाद इस्लाम में खिलाफत का दौर शुरू हो गया था। पहले चार खलीफा - अबू बक्र, उमर, उस्...
नदीमर्ग हिन्दू नरसंहार जैसे अन्य आतंकी हमलों की भी सुनवाई हो

नदीमर्ग हिन्दू नरसंहार जैसे अन्य आतंकी हमलों की भी सुनवाई हो

Devesh Khandelwal  |  Saturday, August 27, 2022, 15:36 [IST]
साल 2003 में कश्मीर घाटी के नदीमर्ग गांव में हुए 24 हिंदुओं के नरसंहार पर जम्मू और कश्मीर उच्च न्यायालय फिर से सुनवाई क...