24 नवंबर से बदली है बुध की चाल लेकिन असर हम पर हो रहा, जानिए कैसे...

Written By: पं. गजेंंद्र शर्मा
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    नई दिल्ली। ज्योतिष हमेशा नवग्रहों और उनकी गति और राशि में गोचर पर निर्भर करता है। समय-समय पर सभी ग्रह अपनी राशि बदलते रहते हैं। चूंकि समस्त राशियां एक-दूसरे से जुड़ी रहती हैं इसलिए एक भी ग्रह अपनी राशि बदलता है तो उसका प्रभाव सभी बारह राशियों पर होता है। ऐसे ही एक महत्वपूर्ण ग्रह बुध ने 24 नवंबर से अपनी राशि बदल ली है, बुध ग्रह 11 दिसंबर 2017 तक धनु में रहेगा। चूंकि इस समय शनि भी धनु राशि में चल रहे हैं इसलिए बुध और शनि की यह युति समस्त राशियों को जबर्दस्त रूप से प्रभावित कर रही है, इस बदली चाल का असर हमारे जीवन पर भी पड़ रहा है।

    • मेष : बुध का धनु राशि में गोचर मेष राशि के नवम भाव पर हो रहा है। यह भाव धर्म स्थान कहलाता है और इसमें शनि भी है। इसलिए यह आपको धर्म के कार्य से डिगाने का प्रयत्न करेगा। इस अवधि के दौरान मेष राशि वालों के विभिन्न् कार्यों में बाधा उत्पन्न् हो सकती है, लेकिन परेशान होने की जरूरत नहीं है । बुध का यह गोचर आपके लिए कुछ मायनों में शुभ भी है। कार्यक्षेत्र में बहुत मेहनत के दम पर ऊंचाई तक पहुंचेंगे।
    • वृषभ : वृषभ राशि के लिए बुध का गोचर आठवें भाव पर है। यात्राएं भी अधिक करवाएगा, लेकिन वे यात्राएं आपके लिए लाभदायक साबित होंगे। नि:संतान दंपती खुश हो जाएं क्योंकि उन्हें इस अवधि में संतानसुख प्राप्त हो सकता है। अब तक जो काम आपके अटके हुए थे वे शीघ्र पूर्ण होने वाले हैं। पुराना निवेश लाभ देगा। मानसिक स्थिति में सुधार आएगा और आप खुश महसूस करेंगे। नए प्रेम संबंध भी प्राप्त हो सकते हैं।
    कुछ रोगों से ग्रसित हो सकते हैं।

    कुछ रोगों से ग्रसित हो सकते हैं।

    • मिथुन : बुध का यह गोचर मिथुन राशि के लिए सप्तम भाव में है। यह स्थान दांपत्य जीवन और जीवनसाथी का भाव है। अत: कुछ मामलों में जीवनसाथी से मनमुटाव हो सकता है, लेकिन वह ज्यादा समय नहीं रहेगा। आपके कुछ कार्य अटक सकते हैं। इससे आत्मविश्वास में कमी जरूर आएगी लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है। जॉब के लिहाज से यह गोचर बहुत लाभदायक सिद्ध हो सकता है। जिन युवाओं के पास अब तक नौकरी नहीं है उन्हें अच्छा जॉब मिल सकता है।
    • कर्क : इस राशि के लिए बुध छठें भाव में गोचर कर रहा है। यह भाव रोगों का भाव है इसलिए आप कुछ रोगों से ग्रसित हो सकते हैं। अनिर्णय की स्थिति भी है। गोचर के उत्तरार्ध में आप अपने कार्यक्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं, जो आपको तरक्की प्रदान कर सकता है। कड़ी मेहनत से आप समस्त कार्यों में आने वाली बाधाओं को पार करने में सफल होंगे।
    कई जगह से शुभ समाचार

    कई जगह से शुभ समाचार

    • सिंह : सिंह राशि के लिए बुध का गोचर पांचवें भाव में है। यह स्थान संतान का भाव होने के साथ खर्च का स्थान है। बुध का यह गोचर संतान पक्ष के लिए शुभ है। इस गोचर में शॉपिंग पर बहुत खर्च करेंगे। भौतिक सुख-साधनों पर खर्च बढ़ेगा। विद्यार्थियों के लिए यह समय अत्यधिक मेहनत करने का है। वे जितनी अधिक मेहनत करेंगे उतना फायदा होगा। बौद्धिक कार्यों से जुड़े लोगों को कोई सम्मान मिल सकता है। हां, इस दौरान परिजनों से कुछ विवाद हो सकता है।
    • कन्या : कन्या राशि के लिए चौथे भाव में है बुध का गोचर। इस दौरान कई जगह से शुभ समाचार प्राप्त होंगे। जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में सफलता मिलेगी। सुख स्थान में बुध का गोचर होने से नौकरीपेशा लोगों को आगे बढ़ने के कई मौके मिलेंगे। व्यापारियों का कार्य विस्तार होगा। घर-परिवार में मेहमानों का आना-जाना लगा रहेगा। परिवार में कोई मांगलिक प्रसंग भी होगा। अविवाहितों को विवाह सुख प्राप्त होगा। दांपत्य जीवन में भी मधुरता आएगी। धन संबंधी परेशानी हल होगी।
    योजनाएं सार्वजनिक न करें

    योजनाएं सार्वजनिक न करें

    • तुला : भाई-बंधुओं का भाव होता है कुंडली का तीसरा स्थान। तुला राशि के लिए इसी भाव में है बुध का गोचर। भाई-बंधुओं से संपत्ति को लेकर विवाद हो सकता है। यदि आप अपनी-अपनी चलाएंगे तो परिवार के लोगों के साथ मनमुटाव की स्थिति बनेगी। बुध के इस गोचर के दौरान आपके विरोधी अधिक सक्रिय होंगे। इसलिए अपनी योजनाएं सार्वजनिक न करें तो ठीक रहेगा। आलस्य का त्याग करें।
    • वृश्चिक : वृश्चिक राशि के लिए बुध का गोचर द्वितीय भाव में है। यह समय इस राशि के लिए शुभ है। धनागम के कई मार्ग खुले हैं। आर्थिक स्थिति पहले से भी ज्यादा मजबूत है। इस दौरान आपको अपनी वाणी और क्रोध पर नियंत्रण रखना ही हित होगा, वरना बने बनाए काम बिगड़ जाएंगे। ऐसा कुछ न कहें जिससे दूसरों के मन को ठेस पहुंचे। दांपत्य जीवन में भी कोई विरोधी बात सामने आए तो संभलकर जवाब दें।
    • धनु : इस राशि के लिए बुध का गोचर प्रथम भाव में है। इस राशि शनि भी है जो आपको यात्राएं करवाएगा। कुछ यात्राएं लाभ देंगी, जबकि कुछ यात्राएं परेशानी में भी डाल सकती है। इसलिए सावधान रहें। यदि स्वयं के वाहन से यात्रा कर रहे हैं तो संभलकर वाहन चलाएं, दुर्घटना की आशंका है। इस दौरान आत्ममुग्धता न रखें, वरना अपनों से ही दूर हो जाएंगे। शारीरिक रूप से कुछ पुरानी बीमारियां घेर सकती हैं।
    मान-सम्मान, पद-प्रतिष्ठा

    मान-सम्मान, पद-प्रतिष्ठा

    • मकर : मकर राशि के लिए बुध ग्रह का गोचर बारहवें भाव में है। चूंकि बारहवां स्थान व्यय स्थान होता है, इसलिए अपनी खर्चीली पृप्रवृत्ति पर अंकुश लगाएं। बेवहज के कार्यों पर खर्च करने से बचें। पत्नी के साथ संबंध मधुर बनेंगे। संतानपक्ष के कार्यों में प्रगति आएगी। शत्रु और विरोधी आपकी छवि को नुकसान पहुंचाने की भरपूर कोशिश कर सकते हैं, लेकिन वे अपने उद्देश्य में सफल नहीं हो पाएंगे।
    • कुंभ : कुंभ राशि के आय स्थान यानी ग्यारहवें भाव में है। धन संपत्ति की प्राप्ति के लिए यह स्थिति शुभ है। कई स्रोत से धन प्राप्त होगा। जीवनसाथी और संतान के साथ किसी मनोरंजक यात्रा पर जाने का अवसर आएगा। आपको मान-सम्मान, पद-प्रतिष्ठा प्राप्त होगी।
    • मीन : मीन राशि के लिए कर्म स्थान यानी दसवें भाव में बुध ग्रह का गोचर है। ध्यान रखें आपके विरोधी सक्रिय हो रहे हैं लेकिन आपकी चतुराई के कारण वे आपसे हार जाएंगे। धन संबंधी परेशानी समाप्त होगी। मानसिक सुख-शांति अनुभव करेंगे। पुबीमारियों से छुटकारा मिलेगा। चूंकि यह कर्म स्थान है इसलिए किसी भी कार्य में आलस न करें। आत्मविश्वास से आगे बढ़ेंगे तो सफलता आपके साथ-साथ चलेगी। प्रेम संबंधों के लिए बुध का गोचर शुभ है।

    Read Also:New Year 2018 Predictions: नए साल में कैसी रहेगी लव-लाइफ, जानिए यहां...

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Mercury Transit in Sagittarius would turn out to be an excellent one for imparting new life into your stratagems. The Planet Mercury transit into Scorpio on 24th of November, 2017. its affeected our life.

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more