• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

MP: नदी में डायनामाइट डालकर मछली पकड़ता था, हाथ में फट गई रॉड, हाथ का पंजा उड़ गया

Google Oneindia News

सागर, 14 सितंबर। नदियों में मछलियों का शिकार करने के लिए लोग तरह-तरह के जतन करते हैं, अलग-अलग तरीके अपनाते हैं। लेकिन मप्र के छतरपुर में एक अलग तरह का मामला सामने आया है, जिसमें एक व्यक्ति नदी में मछलियां मारने के लिए विस्फोटक का उपयोग करता था। बुधवार को उसकी किस्मत ने दगा दिया और विस्फोटक उसके हाथ में ही फट गया और उसका दाहिने हाथ का पंजा बुरी तरह अलग हो गया।

डायनामाइड से मछली पकड़ना पड़ा भारी, हाथ में विस्फोट, पंजा अलग

पुलिस से मिली जानकारी अनुसार छतरपुर जिले के भगवा थाना इलाके में भोजपुर गांव के पास से धसान नदी गुजरी है। यहां गांव व आसपास के लोग नदी में अवैध रुप से मछलियों का शिकार करते रहते हैं। कांटा लगाकर तो कभी जाल डालकर तो कभी अन्य तरीकों से मछली पकड़ते हैं। इसी गांव का एक युवक काफी समय से नदी में फिस्फोटक डालकर मछलियों का शिकार करता था। जानकारी अनुसार भोजपुर का दशरथ पिता रजुआ अहिरवार धसान नदी में डायनामाइट की राॅड डालकर पानी में विस्फोट करता था। वह रॉड में आग लगाकर नदी में फेंक देता था। विस्फोट से मछलियां मृत होकर पानी के ऊपर उतरा आती थीं, जिसे वह व उसके साथी निकाल लेते थे।

Sagar: पॉश कॉलोनियों में सड़कों पर पानी का सैलाब, लगा मानों घर बहा ले जाएगाSagar: पॉश कॉलोनियों में सड़कों पर पानी का सैलाब, लगा मानों घर बहा ले जाएगा

किस्मत ने दिया दगा, हाथ में फट गई विस्फोटक रॉड
बुधवार को दशरथ अहिरवार की किस्मत दगा दे गई। उसने पानी में रॉड डालने के लिए जैसे ही उसमें आग लगाकर पानी में फेंकना चाहा, रॉड उसके हाथ में ही फट गई। विस्फोट पदार्थ में धमाके के कारण उसके दाहिने हाथ का पूरा पंजा उड़ गया। खून से लथपथ दरशथ को उसके पहचान वालों ने स्थानीय अस्पताल पहुंचाया जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। जिला अस्पताल भर्ती कर उसका उपचार किया जा रहा है। चिकित्सकों के अनुसार उसके हा का पंजा अब नहीं है। जीवन भर के लिए वह दिव्यांग हो गया है।

Comments
English summary
A case of poaching fish by putting explosive rods in Dhasan river in Bhagwa police station area of ​​Chhatarpur district of MP has come to light. In this, the explosive rod exploded in the young man's hand, due to which the paw of his hand got separated. The youth is being treated at Chhatarpur District Hospital. Now he is handicapped in one hand.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X