• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

प्रवासियों को लेकर यूरोपीय संघ में गहरे मतभेद

By Bbc Hindi
प्रवासी
AFP
प्रवासी

यूरोपीय संघ के नेताओं में प्रवासियों को लेकर हुए नए समझौते पर बड़े मतभेद नज़र आ रहे हैं.

समझौते के तहत प्रवासियों को रखने के लिए सुरक्षित केंद्र स्थापित करने पर सहमति बनी है.

लेकिन फ्रांस का कहना है कि वो ऐसा कोई केंद्र नहीं बनाएगा क्योंकि वो यूरोपीय संघ का ऐसा देश नहीं है जहां प्रवासी सबसे पहले पहुंचते हैं.

इस पर इटली का कहना है कि ऐसे केंद्र यूरोपीय संघ के भीतर कहीं भी बनाए जा सकते हैं.

प्रवासी
AFP
प्रवासी

वहीं यूरोपीय संघ के अध्यक्ष डोनल्ड टस्क ने चेतावनी दी है कि इस समझौते को लागू करने में मुश्किलें आएंगी.

इसी तरह जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल ने कहा है कि ये आगे बढ़ने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है लेकिन मतभेदों को दूर करने के लिए और भी बहुत कुछ करने की ज़रूरत है.

एंगेला मर्केल
AFP
एंगेला मर्केल

ब्रसेल्स में मौजूद बीबीसी न्यूज़ की यूरोप एडिटर काट्या अडलेर के मुताबिक इससे ये पता चलता है कि यूरोप के प्रवासी संकट का समाधान नहीं निकला है.

इस समझौते को जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल के लिए महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि वो अपनी ही ज़मीन पर इस मुद्दे पर राजनीतिक विरोध का सामना कर रही है.

इस्लाम से देश का संबंध नहीं: जर्मनी के गृहमंत्री

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Deep differences in the European Union regarding migrants

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X