• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

असम की 'दुर्लभ घटना' में 7 झोपड़ियां क्षतिग्रस्त, ऊपर उठते धूल के गुबार को देख विशेषज्ञों ने कही ये बात

Google Oneindia News

नई दिल्ली, 8 मई। असम के बारपेटा जिले में एक दुर्लभ घटना घटना देखी गई। जिसमें 7 झोपड़िया क्षतिग्रस्त हो गईं। जमीन से कई मीटर ऊपर उठते धूल के गुबार को देखते हुए विशेषतज्ञों ने घटना को लेकर महत्वपूर्ण बातें कहीं। हलांकि इस खतरनाक घटना के दौरान कोई घायल नहीं हुआ।

Tornado in Assam

पूर्वोत्तर क्षेत्र में अपेक्षाकृत प्राकृतिक उथल पुथल कम देखने को मिलती है। लेकिन शनिवार को असम के बरपेटा जिले में एक दुर्लभ बवंडर की घटना देखी गई। कहा जा रहा कि बवंडर बहुत कम तीव्रता का था। यह जिले के चेंगा क्षेत्र के रोवमारी गांव में सुबह 10:20 बजे हुआ और कुछ मिनटों तक चला, "बारपेटा के उपायुक्त तेज प्रसाद भूषण ने कहा। घटना में सात झोपड़ियां क्षतिग्रस्त हो गईं। अधिकारियों ने कहा कि बवंडर के दौरान किसी के मरने या घायल होने की सूचना नहीं है। वहीं असम के बारपेटा उपायुक्त तेज प्रसाद भूषण ने कहा कि बवंडर ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे से शुरू हुआ। नदी रोवमारी गांव के करीब बहती है। बवंडर एक छोटे क्षेत्र तक ही सीमित रहा।

मदर्स डे पर तमिलनाडु की 'इडली अम्मा' को मिला अनमोल तोहफा, आनंद महिंद्रा ने पूरा किया वादा मदर्स डे पर तमिलनाडु की 'इडली अम्मा' को मिला अनमोल तोहफा, आनंद महिंद्रा ने पूरा किया वादा

घटन के दौरान स्थानीय लोगों ने मोबाइल फोन पर बवंडर का वीडियो शूट किया जो बाद में वायरल हो रहा है। इसमें बवंडर की तीव्रता साफ दिखाई दे रही है। बवंडर ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे से शुरू हुआ था। भारत मौसम विज्ञान विभाग के गुवाहाटी कार्यालय के वैज्ञानिक सुनीत दास ने घटना की सही जानकारी होने से इनकार किया। उन्होंने कहा कि घटनास्थल के आसपास कोई मौसम वेधशाला नहीं है। लेकिन तस्वीरों से लगता है कि यह एक हल्की तीव्रता वाला बवंडर था।

Comments
English summary
Tornado strikes in Assam experts says it was rare
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X