• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Astro Tips: विवाह को टूटने से बचाएं, ये उपाय करें

By Pt. Gajendra Sharma
|

नई दिल्ली। विवाह केवल दो स्त्री-पुरुष के बीच का संबंध नहीं है, यह दो परिवारों को भी जोड़ता है। इसलिए विवाह का सफल होना जरूरी है। लेकिन आजकल स्त्री और पुरुष दोनों में सहनशीलता की कमी और गुरुर के कारण कई विवाह थोड़े समय में ही टूट जाते हैं। इससे दो परिवारों के बीच भी विवाद पैदा होते हैं और सामाजिक रूप से कई बार अपमानजनक स्थितियों का सामना करना पड़ता है। ज्योतिषिय दृष्टि से देखा जाए तो विवाह टूटने के कई कारण होते हैं। इनमें सबसे प्रमुख कारण स्त्री या पुरुष में से किसी एक को मंगल दोष होना।

विवाह को टूटने से बचाएं, ये उपाय करें

विवाह को टूटने से बचाएं, ये उपाय करें

इसके अलावा कुंडलियों का सही मिलान नहीं होना, नाड़ी दोष होना, स्त्री या पुरुष की जन्मकुंडली के सप्तम स्थान में दूषित ग्रहों का होना, सप्तम भाव में ग्रहण दोष होना जैसे अनेक कारण हो सकते हैं। यदि ऐसा ही कोई दोष हो और विवाह टूटने की कगार तक पहुंच गया हो तो शास्त्रों में कुछ उपाय बताए गए हैं, जिससे टूटते रिश्तों को बचाया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: मेष राशि वाली महिलाएं किस राशि के पुरूष से विवाह करें?

पुरुष अपने कुलदेवता या कुलदेवी की नियमित पूजा करे

पुरुष अपने कुलदेवता या कुलदेवी की नियमित पूजा करे

  • इसके लिए सबसे पहली बात, पुरुष अपने कुलदेवता या कुलदेवी की नियमित पूजा करे। अपने पूर्वजों के निमित्त दान, तर्पण, पिंड दान करवाएं। क्योंकि परिवार टूटने के पीछे कहीं ना कहीं पितरों की असंतुष्टि होती है। खासकर अमावस्या के दिन पितरों के नाम से धूप देकर दान-पुण्य करें।
  • जिन स्त्रियों का विवाह संकट में हैं वे नियमित रूप से शिव परिवार की पूजा करें। स्त्रियां देवी पार्वती की नियमित पूजा करके उन्हें प्रत्येक गुरुवार को सुहाग की सामग्री भेंट करें।
  • विवाह संबंध को टूटने से बचाने और संबंधों को मजबूत बनाने के लिए शुक्लपक्ष के प्रत्येक शुक्रवार को देवी पार्वती को हरी दाल अर्पित करें। खड़े हरे मूंग देवी को अर्पित करना चाहिए।
  • विवाह सुख

    विवाह सुख

    • विवाह सुख की प्राप्ति के लिए प्रत्येक सोमवार को सफेद पत्थर के शिवलिंग को कच्चा दूध अर्पित करें। साथ में देवी पार्वती को सिंदूर अर्पित करें और उनके चरणों से सिंदूर लेकर स्त्रियां अपनी मांग में भरें, इससे विवाह सुख स्थायी बना रहता है।
    • मंगल की शांति कराने से भी वैवाहिक जीवन में आ रही समस्याएं दूर होती हैं।
    • प्रत्येक गुरुवार को चने की दाल में कच्ची हल्दी का टुकड़ा रखकर किसी सुहागिन स्त्री को दान दें। यदि सुहागिन स्त्री यह दान ना लें तो किसी देवी मंदिर में जाकर रख दें। इससे विवाह बच जाता है।

यह भी पढ़ें:अंगुली देखकर जानें आपका गुरु कमजोर है या मजबूत

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In astrology, the planetary yog in the seventh house of the kundalis or birth chart is dedicated as the house of marriage, marital harmony and life partner. here is some tips.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X