• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ट्विटर पर सबसे ज्यादा प्रताड़ना झेलती हैं भारत की महिला राजनेता, ये सर्वे कर देगा हैरान

|

नई दिल्ली। भारत में ट्विटर पर महिला राजनेताओं को सबसे ज्यादा निशाना बनाया जाता है। पुरुष नेताओं के मुकाबले महिला नेताओं के साथ अधिक अभद्र भाषा इस्तेमाल की जाती है। ये बात एक सर्वे में सामने आई है। मानवाधिकार संगठन एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया ने इस सर्वे के लिए देश की 95 महिला नेताओं के प्रोफाइल का अध्ययन किया है। इसमें पता चला है कि लोगों को सोशल मीडिया पर किसी ना किसी मुद्दे को लेकर अकसर ट्रोल किया जाता है। इस ट्रोलिंग में सबसे ज्यादा महिला नेताओं को निशाने पर लिया जाता है।

'महिलाओं को डराया जा रहा है'

'महिलाओं को डराया जा रहा है'

सर्वे के अनुसार, उन महिला नेताओं को सबसे ज्यादा निशाने पर लिया जाता है, जो अपनी राय रखती हैं। इसमें महिला नेताओं पर उनके लिंग, धर्म, जाति, शादी और अन्य निजी मुद्दों को लेकर निशाना साधा जाता है। डिजिटल अधिकार विशेषज्ञों का कहना है कि 'लिंग आधारित ऑनलाइन हिंसा बढ़ रही थी। जिसमें महिलाओं को डराया जा रहा है। इसके जरिए उन्हें खुद की राय रखने से रोका जा रहा है।'

114,716 से अधिक ट्वीट की जांच की गई

इस सर्वे के लिए एजेंसी ने कुल 95 महिलाओं के ट्विटर प्रोफाइल को ट्रैक किया गया था। इसमें 114,716 से अधिक ट्वीट की जांच की गई जिसमें इन नेताओं को मेंशन किया गया था। मार्च 2019 से मई 2019 तक (यानी लोकसभा चुनाव के आसपास) महिलाओं के ट्विटर अकाउंट पर नजर रखी गई थी। इनमें से कुल 13.8 फीसदी ट्वीट में इनके खिलाफ गाली-गलौज का इस्तेमाल किया गया। मुस्लिम महिला नेताओं को करीब 95 फीसदी ट्रोलिंग उनके धर्म की वजह से झेलनी पड़ी। सर्वे में एक हैरान करने वाली बात ये भी सामने आई है कि इनमें अधिकतर उन नेताओं को निशाने पर लिया जाता है, जो कि भाजपा से ताल्लुक नहीं रखती हैं।

 कुछ अकाउंट्स पर कार्रवाई

कुछ अकाउंट्स पर कार्रवाई

इस सर्वे के बाद ट्विटर का भी बयान सामने आया है। जिसमें उसने कहा है, भारत में लोकसभा चुनाव से पहले कुछ अकाउंट्स पर कार्रवाई की गई। इसके साथ ही कई शब्दों पर भी रोक लगाई गई थी। ट्विटर की कोशिश एक ऐसा माहौल को बनाने की है, जहां किसी को अभद्रता का सामना ना करना पड़े। सर्वे के आंकड़ों में कहा गया है कि हर सात में से एक ट्वीट में महिला नेताओं के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया जाता है। भारत की महिला नेताओं के खिलाफ सोशल मीडिया पर अमेरिका और ब्रिटेन की नेताओं से भी ज्यादा बयानबाजी होती है। इसके अलावा हर पांच में से एक ट्वीट सीधे तौर पर महिला विरोधी होता है।

Video: टीचर के मैथ्स पढ़ाने का तरीका सोशल मीडिया पर वायरल, शाहरुख और आनंद महिंद्रा ने किया ट्वीट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Women politicians in India face a shocking scale of abuse on Twitter said amnesty international reports.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X