• search
छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Chhattisgarh Earthquake: कोयलांचल में 3 महीने में तीसरी बार हिली धरती, जियोलॉजिकल अध्ययन की मांग

Google Oneindia News

Chhattisgarh के कोरिया जिला में तीसरी बार भूकम्प के झटके महसुस किये गए हैं। जिले के छिंदडांड इलाके में शुक्रवार सुबह सुबह भूकम्प के झटके महसूस किया गया है। इस तरह बार बार भूकम्प आने से इसके भूगर्भीय अध्ययन करने की मांग स्थानीय लोगों द्वारा की जा रही है। इस तरह यह चौथी बार सरगुजा संभाग में झटके महसूस किया गया है।

CG earthquake

कोरिया के दुधनिया ग्राम के पास मिला भूकम्प का केंद्र
अम्बिकापुर से लगभग 70 किलोमीटर दुर कोरिया जिला मुख्यालय के बैकुंठपुर से लगे छिंदडांड के राक्या और दुधनिया कला ग्राम के पास भूकंप का केंद्र मिला है। यह केंद्र लगभग जमीन की सतह से करीब 10 किमी अंदर केंद्रित था। सुबह सुबह की घटना होने कारण ग्रामीण इलाके में भूकंप असर कम देखा गया। लेकिन कटगोड़ी राकया खनन क्षेत्र में भूकंप के झटके से एक किसान के घर का छप्पर गिरने की जानकारी है। ग्रामीण को लगा कि माइंस में ब्लास्टिंग से घर का छप्पर गिरा होगा। जिससे आक्रोशित ग्रामीणों ने सुबह माइंस का घेराव भी कर दिया।

Earth news:जिस ऐस्टरॉइड ने Dinosaurs को विलुप्त किया,उससे कैसे महीनों तक हिली थी धरती ? जानिए
कोरिया में 4 सेकेंड के लिए हिली धरती
इससे पहले ही कोरिया के समीप सूरजपुर जिले में भूकम्प के झटके महसूस किए गए थे। इस बार कोरिया जिले में सुबह 05 बजकर 28 मिनट 23 सेकेंड पर 4.8 रिक्टर तीव्रता के भूकम्प के झटके महसूस किए गए। मौसम विभाग के प्रारम्भिक जानकारी के अनुसार यह भूकम्प सतह से 10 किमी की गहराई पर केंद्रित था। इसकी भौगोलिक अक्षांशीय स्थिति 23.33° उत्तरी अक्षांश और 82.58° पूर्वी देशांतर थी। बीते तीन माह के भीतर जिले में तीसरी बार भूकंप के झटके महसूस किए गए।

तीन महीने में तीसरी बार महसूस हुए झटके
कोयलांचल क्षेत्र में लगभग तीन माह में भूकम्प की चार आवृत्ति जिनमें तीन कोरिया जिले के लगभग एक ही क्षेत्र और एक उसके ही समीप सूरजपुर जिले में झटके महसूस होने के कारण भौगोलिक आंतरिक अस्थिरता के लक्षण देखे जा रहे हैं। भुगर्भ वैज्ञानिकों की माने तो मध्य भारतीय टेक्टोनिक प्लेट्स में हो रही विकृतियों की ओर इसके संकेत मिल रहे हैं। इस पर अध्ययन की आवश्यकता है। ताकि भविष्य में इसमें होने वाले बड़े प्रभावों परिवर्तन से बचा सके। हालांकि कुछ प्रोफेसर इसे कोयला खनन वाला क्षेत्र होने के कारण भुकम्प के सामान्य झटके मानते हैं।

छत्तीसगढ़ के सरगुजा संभाग में 3 माह में 4 बार झटके
दरअसल छत्तीसगढ़ के सरगुजा संभाग के जिलों में भूकम्प के झटके महसूस किए जा रहें हैं। इस साल चौथी बार धरती हिली है। साल 2022 में 9 जुलाई को कोरिया जिले में सुबह 12.58 मिनट पर 4.6 तीव्रता, 11 जुलाई को कोरिया जिले में 8.10 मिनट पर 4.8 तीव्रता, 4 अगस्त को सूरजपुर जिला के गंगोटी क्षेत्र में सुबह 11.57 बजे, 3.0 रिक्टर तीव्रता, 14 अक्टूबर यानी आज कोरिया जिला छिंदडांड़ क्षेत्र में सुबह 5.28 मिनट पर 4.8 रिक्टर तीव्रता के झटके महसूस किए गए है।

Comments
English summary
Chhattisgarh Earthquake: Earth shakes for the third time in 3 months, demand for geological studies
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X