कोर्ट में पेशी से पहले ही तीन कुख्यात गाड़ी से गायब, पुलिस वैन का नीचला तला तोड़कर फरार

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

पटना। एक बार फिर बिहार के हाजीपुर जिले में पुलिस वालों की लापरवाही से तीन कुख्यात अपराधी पुलिस वैन से फरार होने में कामयाब रहे। सभी को वैशाली जिला मुख्यालय हाजीपुर मंडलकारा से पड़ोसी जिले सिवान के सोनपुर रेलवे मजिस्ट्रेट की अदालत में पेशी के लिए ले जाया जा रहा था। तभी रास्ते में गाड़ी की निचली प्लेट को तोड़ते हुए सभी फरार हो गए। कैदी के फरार होने के बाद मामले की जानकारी वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को दी गई और फिर से उन्हें गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी शुरू कर दी गई। वहीं इस में दोषी कर्मियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की भी बात बताई जा रही है।

फिल्मी स्टाइल से दिया पुलिस को चकमा

फिल्मी स्टाइल से दिया पुलिस को चकमा

जानकारी के मुताबिक हाजीपुर मंडल कारागार से 3 कैदी अजय शाह, निरंजन और बिट्टू कुमार को रेलवे के मामले में पेशी के लिए सोनपुर रेलवे मजिस्ट्रेट की अदालत में ले जाया जा रहा था। तभी वाहन के कमजोर निचले हिस्से को तोड़कर वो सभी गाड़ी से निकल गए। जेल अधीक्षक मनोज कुमार सिन्हा ने मामले की जानकारी देते हुए कहा कि फरार हुए तीनों अपराधियों में से निरंजन पड़ोसी राज्य उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के रेवती थाना क्षेत्र का रहने वाला था। तो अजय शाह बिहार के समस्तीपुर जिले का और बिट्टू कुमार वैशाली जिले के सराय थाना का रहने वाला था।

गिनती में पता चला गायब हैं कैदी

गिनती में पता चला गायब हैं कैदी

इन सभी को शुक्रवार को 4 महीने पहले रेलवे में चोरी की घटना के मामले में विचाराधीन कैदी ठहराया गया। इसी दौरान आज हाजीपुर मंडल कारागार से पुलिस की सुरक्षा में इनको सोनपुर रेल मजिस्ट्रेट की अदालत में पेशी के लिए ले जाया जा रहा था। तभी रास्ते में तीनों फरार हो गए। इस बात का खुलासा तब हुआ जब बंदी लौटने पर गिनती शुरू हुई तो तीन लोग नहीं थे, इसके बाद मामले की जानकारी अधिकारियों को दी गई और उनके आदेश अनुसार छापेमारी की जा रही है।

पुलिस नाप रही है कितने हैं सब कुख्यात!

पुलिस नाप रही है कितने हैं सब कुख्यात!

मामले की जानकारी देते हुए वैशाली पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि कैदी वैन से फरार हुए अपराधी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। जल्द ही इन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा। फरार हुए सभी अपराधी रेलवे में चोरी की घटना को अंजाम देते थे। इसी मामले में उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था और आज सोनपुर रेलवे मजिस्ट्रेट के पास उनकी पेशी थी तभी सभी फरार हो गए। वहीं इस मामले में जांच का आदेश दे दिया गया है और रिपोर्ट मिलने के बाद दोषी कर्मियों के खिलाफ जल्द कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Read more:बसपा नेता की हत्या के बाद पूछताछ के लिए उठाए गए छात्र नेता ने उगले नाम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Three convicts escape from police van on their hearing in Court

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.