• search

Author Profile - alok kumar

आलोक कुमार 1988 से पत्रकार हैं। दुमका, रांची, पटना के रास्ते 1993 से दिल्ली में मुख्यधारा की पत्रकारिता से जुड़े। माया, दैनिक जागरण, दैनिक भास्कर, ज़ी न्यूज, आजतक आदि न्यूज़ चैनल में काम करने के बाद फिलहाल इन दिनों मान्यता प्राप्त स्वतंत्र पत्रकार हैं।

Latest Stories

क्या सीताराम केसरी होने के हश्र से घबरा गये अशोक गहलोत?

क्या सीताराम केसरी होने के हश्र से घबरा गये अशोक गहलोत?

alok kumar  |  Tuesday, September 27, 2022, 12:42 [IST]
1996 के आम चुनाव में प्रधानमंत्री पी वी नरसिंह राव के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी चुनाव हार गई थी। पूर्व प्रधानमंत्र...
राहुल गांधी ने कन्याकुमारी में एकनाथ रानाडे को भूलकर बड़ी गलती कर दी

राहुल गांधी ने कन्याकुमारी में एकनाथ रानाडे को भूलकर बड़ी गलती कर दी

alok kumar  |  Tuesday, September 13, 2022, 17:30 [IST]
तीन हजार पांच सौ सत्तर किलोमीटर चलने की ठान लेना। संकल्प पर अमल करने के लिए पैदल निकल पड़ना। पांच महीनों तक घर की छत...
नीतीश कुमार का ‘मिशन दिल्ली’

नीतीश कुमार का ‘मिशन दिल्ली’

alok kumar  |  Thursday, September 08, 2022, 16:39 [IST]
सबको मालूम है, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार क्या चाहते हैं और उनके निशाने पर क्या है। बीते महीने बिहार में पार...
मोदी के सामने विपक्ष की ओर से प्रधानमंत्री पद के दर्जन भर दावेदार

मोदी के सामने विपक्ष की ओर से प्रधानमंत्री पद के दर्जन भर दावेदार

alok kumar  |  Tuesday, August 30, 2022, 14:25 [IST]
मई 2024 में अगला प्रधानमंत्री तय होना है। दिल्ली के सियासी घमासान का नया रोमांचक दौर शुरु होने में पांच सौ दिन से भी क...
विधानसभा की सदस्यता जाने पर हेमंत सोरेन के पास सीमित विकल्प

विधानसभा की सदस्यता जाने पर हेमंत सोरेन के पास सीमित विकल्प

alok kumar  |  Friday, August 26, 2022, 16:45 [IST]
झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के भ्रष्टाचार को लेकर अजीब संवैधानिक संकट खड़ा हो गया है। चुनाव आयोग ने मुख्यम...
लोकाचार में बढते भ्रष्टाचार पर मारक प्रहार का इंतजार

लोकाचार में बढते भ्रष्टाचार पर मारक प्रहार का इंतजार

alok kumar  |  Wednesday, August 03, 2022, 15:39 [IST]
दुनिया वैश्विक मंदी की आहट से घबराहट में है, लेकिन अपने यहां नकद बरामदगी की बाढ सी आ गई है। यहां वहां जहां तहां बस बे...
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की संथाल जनजाति के वीरों ने किया था अंग्रेजों के खिलाफ पहला विद्रोह

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की संथाल जनजाति के वीरों ने किया था अंग्रेजों के खिलाफ पहला विद्रोह

alok kumar  |  Wednesday, July 27, 2022, 14:54 [IST]
हमारे के लिए यह आजादी का अमृत वर्ष है। हम परिपक्व हो रहे हैं। लोकतंत्र भारत पर अमृत बरसा रहा है। अंत्योदय साकार हो र...