• search
वाराणसी न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

कॉमन सर्विस सेंटर पर होगा शादी का पंजीयन, E-Stamp बिक्री हुई प्रारंभ

वाराणसी में सीएससी पर E-Stamp की सुविधा का शुभारंभ करते हुए स्टांप मंत्री ने कहा कि प्रदेश के सभी सीएससी पर यह सुविधा शुरू कर दी गई है अब आने वाले समय में शादी का पंजीयन भी सीएससी होने लगेगा।
Google Oneindia News

कॉमन सर्विस सेंटर अर्थात सीएसएसी संचालकों और यूपी के लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। अब सीएससी पर E-Stamp की सुविधा शुरू हो गई है। इसके अलावा जल्द ही शादी का पंजीयन भी सीएससी पर होने लगेगा। शुक्रवार को वाराणसी के कमिश्नरी सभागार में कॉमन सर्विस सेंटरा पर E-Stamp की सुविधा का शुभारंभ करने पहुंचे उत्तर प्रदेश के स्टांप एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविंद्र जायसवाल द्वारा इसके बारे में जानकारी दी गई। उन्होंने कहा कि सीएससी से यह सेवाएं प्रारंभ हो जाने के बाद जहां लोगों को इन सभी कार्यों के लिए भटकना नहीं पड़ेगा वहीं पढे़ लिखे नौजवानों को इससे रोजगार भी मिल रहा है।

अब जन-जन तक पहुंचता है एक-एक रुपया

अब जन-जन तक पहुंचता है एक-एक रुपया

शुभारंभ के दौरान वहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि पूर्व में सरकार द्वारा जो भी रुपए गरीबों और जरुरतमंदों के लिए मदद स्वरूप दिल्‍ली या लखनऊ से भेजे जाते थे उसमें से केवल 15 फीसदी ही पहुंच पाते थे। भाजपा सरकार बनने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी के विजन और उनके डिजिटल इंडिया क्रांति की यह देन है कि दिल्ली या लखनऊ से सरकार द्वारा जो भी रुपए गरीबों जरुरतमंदों के लिए भेजे जाते हैं, वे उनके पास पहुंचते हैं। यह देश का बहुत बड़ा परिवर्तन है। सरकार का सदैव से प्रयास रहा है कि जनता को सीधे तौर पर लाभ पहुंचाया जाय और इसी के आधार लगातार काम हो रहे हैं और रिजल्ट भी देखने का मिल रहा है।

जीरो बैलेंस के खाते पर लोगों ने उड़ाए मजाक

जीरो बैलेंस के खाते पर लोगों ने उड़ाए मजाक

उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा जब बैंकों में जीरो बैलेंस पर गरीब लोगों का खाता खोलने की घोषणा की गई थी, उस समय कुछ लोगों ने इसका मजाक बनाया था। लेकिन आज शत-प्रतिशत गरीब लोगों का बैंकों में जीरो बैलेंस पर खाता खुला और उनके पेंशन, सब्सिडी सहित सरकारी योजनाओं के लाभ की धनराशि सीधे उनके बैंक खातों में पहुंच रही है। यह सब डिजिटल क्रांति की ही देन है, डिजिटल क्रांति आ जाने के चलते सभी विभागों में फर्जीवाड़ा खत्म हुआ है।

1 लाख 87 हजार नौजवानों को मिला रोजगार

1 लाख 87 हजार नौजवानों को मिला रोजगार

डिजिटल क्रांति का प्रभाव स्टांप के खरीद-फरोख्त पर भी पड़ा है। E-Stamp आ जाने के बाद स्टाम्प के खरीद-फरोख्त में पहले की तरह अब फर्जीवाड़ा नहीं हो सकता है, ऐसे में देश का राजस्व बचा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कॉमन सर्विस सेंटरों पर E-Stamp सेवा का शुभारंभ होने से 1 लाख 87 हजार नौजवानों को एक साथ रोजगार मिला है। उन्होंने कॉमन सर्विस सेंटर संचालकों को हिदायत देते हुए कहा कि ई-स्टांप बिक्री पर अतिरिक्त धनराशि कतई नहीं ली जानी है और यदि इसकी सूचना मिली तो संबंधितों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कॉमन सर्विस सेंटरों पर जल्द होगा शादी विवाह का पंजीयन

कॉमन सर्विस सेंटरों पर जल्द होगा शादी विवाह का पंजीयन

उन्होंने कहा कि जल्द ही कॉमन सर्विस सेंटरों पर शादी विवाह के पंजीयन की भी व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाएगी। इसके लिए वर पक्ष और कन्या पक्ष या वर-वधू खुद से सीएससी पर अपने दस्तावेज उपलब्ध करा देंगे और शादी के दिन सीएससी संचालकों द्वारा जयमाला के बाद शादी का पंजीयन वर वधू का सौंपा जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि ग्राहक सेवा केंद्र भविष्य में बेरोजगार लोगों को रोजगार उलब्ध कराने का एक माध्यम बनेगा।

ब्लड रिलेशन में होने वाली रजिस्ट्री पर नहीं देना होगा कोई स्टांप शुल्क, योगी सरकार ने दिया बड़ा तोहफाब्लड रिलेशन में होने वाली रजिस्ट्री पर नहीं देना होगा कोई स्टांप शुल्क, योगी सरकार ने दिया बड़ा तोहफा

Comments
English summary
E-stamp sale started at CSC marriage registration will also be available
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X