• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

गुना में बैठक के दौरान सांसद और पंचायत मंत्री के बीच दिखी टेंशन, पूर्व मंत्री ने भी दे डाली हिदायत

|
Google Oneindia News

गुना, 24 मई। गुना सांसद केपी यादव और पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया के बीच तकरार बढ़ती जा रही है। एक बार फिर से दोनों के बीच की दूरियां सामने आई हैं। गुना में पंचायत और नगरीय निकाय चुनाव को लेकर आयोजित की गई बैठक में दोनों मौजूद रहे लेकिन दोनों के बीच मनमुटाव दिखाई दिया।

minister
आगामी नगरीय निकाय और पंचायत चुनाव के मद्देनजर बीजेपी पार्टी द्वारा गुना में एक बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में गुना सांसद केपी यादव समेत पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया और पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता भी शामिल हुए। इस बैठक में सांसद केपी यादव और पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया के बीच बढ़ती हुई तकरार का एहसास भी पार्टी कार्यकर्ताओं ने महसूस किया।
सांसद ने कहा 2019 के चुनाव के नतीजे ऐतिहासिक थे
सांसद केपी यादव ने बैठक में बीजेपी पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि 2019 के चुनाव के नतीजे इतने ऐतिहासिक थे कि उन्हें आने वाली कई पीढ़ियां याद रखेंगी। दरअसल केपी यादव ने 2019 में ज्योतिरादित्य सिंधिया को चुनाव मैदान में पराजय दी थी और इसी बात का जिक्र केपी यादव ने बैठक में किया था।
पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने कहा कि उन्होंने जनाधार को लगातार बढ़ाया है
सांसद केपी यादव जहां खुद की जीत को ऐतिहासिक बता रहे थे वहीं सिंधिया समर्थक पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने बैठक में बीजेपी कार्यकर्ताओं से कहा कि बमोरी में उन्होंने किस तरह से अपना जनाधार लगातार बढ़ाया है। उन्होंने बताया कि पहले वे चुनाव हार गए थे लेकिन इसके बाद उन्होंने लगातार मेहनत की और 18000 वोट से जीत गए।

पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने इशारों ही इशारों में दी हिदायत
बैठक में शामिल होने आए पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने इशारों ही इशारों में पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया को हिदायत दे डाली। पूर्व मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने कहा कि अपने जनाधार को लेकर कोई गलतफहमी ना पाले हमारा सम्मान पार्टी के कारण होता है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी ऐसी पार्टी है जिसमें 21000 से चुनाव जीतने वाले 50000 से जीतने लगते हैं।

पंचायत मंत्री के बयान के बाद शुरु हुआ टेंशन

19 मई को पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ने जज्जी में आयोजित एक कार्यक्रम में जनता की तरफ से केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से माफी मांगते हुए कहा था कि गलती हो गई इस गलती को आप माफ कर दें। यह बात जब सांसद के पी यादव को मालूम हुई तो उन्होंने पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया को मूर्ख तक कह दिया था तभी से दोनों के बीच तनातनी चली आ रही थी।

सिंधिया के कट्टर समर्थक होने की वजह से सांसद और मंत्री के बीच बढ़ रही है दूरियां
पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह सिसोदिया ज्योतिरादित्य सिंधिया के कट्टर समर्थक हैं जबकि सांसद केपी यादव ज्योतिरादित्य सिंधिया को ही हराकर सांसद बने हैं। ऐसे में जब भी महेंद्र सिंह सिसोदिया सिंधिया से गुना की जनता को माफ कर देने की बात कहते हैं तो सांसद को यह सीधा-सीधा खुद पर हमला नजर आता है और यही वजह है कि सांसद और पंचायत मंत्री के बीच लगातार तनाव बढ़ता जा रहा है।

Comments
English summary
tension is rising between guna mp kp yadav and panchayat minister mahendra singh sisodiya
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X