• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

जादू का शो शुरु होने से पहले नगर निगम ने कहा, पहले रोज 1 हजार रुपए जमा करो

सागर में जादूगर प्रिंस वीडी वैरागी का शो—शुरु करने के पहले ही उन्हें नोटिस मिल गया। नगर निगम ने नोटिस में कहा है कि जादू का शो करने के लिए अनुमति नहीं ली गई। प्रदर्शन शुल्क के रुप में रोज एक हजार रुपए जमा करना होंगे।
Google Oneindia News

Madhya Pradesh के सागर में एक जादूगर ने बड़े जोर-शोर से जादू का शो दिखाना भारी पड़ गया। नगर निगम ने जादूगर को नोटिस दिया है, उसमें रविंद्र भवन में आयोजित मैजिक शो से पहले नगर निगम से अनुमति नहीं ली गई हैं, न ही प्रदर्शन शुल्क जमा किया है। अब जादूगर को रोजाना प्रदर्शन शुल्क के रुप में रोज 1000 रुपए निगम में जमा करना होंगे, तभी शो कर पाएंगे।

जादूगर प्रिंस वीडी वैरागी

नगर निगम आयुक्त चंद्रशेखर शुक्ला ने निगम के पास ही स्थित रवींद्र भवन में जादू का शो प्रारंभ करने वाले जादूगर प्रिंस वीडी वैरागी को नोटिस थमा दिया। नोटिस में आयुक्त ने उल्लेख किया है कि नगर निगम सीमा में किसी भी तरह का मनोरंजन शो करने के लिए नगर निगम से नियमानुसार अनुमति लेना आवश्यक है। इसके लिए तय प्रदर्शन शुल्क जमा करना होगा। आयुक्त ने ताकीद किया है कि यदि मैजिशियन ने रोज 1 हजार रुपए प्रदर्शन शुल्क जमा नहीं किया तो उन पर कार्रवाई की जाएगी। नोटिस मिलने के बाद जादूगर भी हैरान है।

notice jaduger

मुकेश तिवारी ने 'जगीरा डाकू’ का किरदार निभाने 45 दिन नहाया नहीं था, दो साल कोई काम नहीं मिलामुकेश तिवारी ने 'जगीरा डाकू’ का किरदार निभाने 45 दिन नहाया नहीं था, दो साल कोई काम नहीं मिला

बीते साल भी शो किया था, कोई शुल्क नहीं मिला
जादूगर वीडी वैरागी की टीम के लोगों ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने पिछले साल भी सागर में इसी रविंद्र भवन में मैजिक शो आयोजित किया था। उस दौरान मात्र 500 रुपए की रसीद काटी गई थी। सागर के अलावा किसी भी शहर में नगरीय निकाय ने हमसे कभी प्रदर्शन शुल्क नहीं लिया है। सागर में पहली दफा इस तरह का शुल्क जादूगर से जादू दिखाने के लिए लिया जा रहा है। हालांकि बीते साल शहर में बिजली के पोल और सार्वजनिक स्थानों पर मैजिक शो के पम्पलेट और पोस्टर लगा जाने के बाद निगम ने 17 हजार का जुर्माना लगाया था। यह जुर्माना इसलिए लगाया गया था क्योंकि शहर में स्वच्छता सर्वेक्षण चल रहा था और जहां तहां पोस्टर से शहर की सुंदरता खराब हो रही थी।

Comments
English summary
Even before the magician weaves his magic and entertains the people, the Municipal Corporation handed over the notice to him. The corporation says that it has not taken permission from the corporation to do the show in the city, nor has it deposited the performance fee. The magician has been asked to deposit one thousand rupees daily.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X