जैन मुनि तरुण सागर के खिलाफ फेसबुक पर टिप्पणी करने वाला सीनियर सरकारी अधिकारी मुसीबत में

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश में जैन धर्म के दिगंबर संप्रदाय के मुनि तरुण सागर की आलोचना करने को लेकर एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी को मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। तरुण सागर ने हाल ही हरियाणा विधानसभा को संबोधित किया था।

जैन मुनि पर टिप्पणी करना सरकारी अधिकार को पड़ा भारी

पढ़ें : संगम नगरी में मायावती की महारैली आज, सुबह से ही जुटना शुरू हो गई भीड़

दामोह में जैन समुदाय के लोगों ने पुलिस और ​जिला कलेक्टर को दामोह जिला पंचायत के सीईओ जेसी जातिया के खिलाफ इस मामले में कार्रवाई करने की अपील की है।

फेसबुक पोस्ट पर टिप्पणी का आरोप

आपको बता दें कि दामोह जिला में ही तरुण सागर का जन्म भी हुआ था। जेसी जातिया पर अपनी फेसबुक पोस्ट में तरुण सागर महाराज के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप लगा है।

शिकायतकर्ता के मुताबिक, जातिया ने फेसबुक पर इस काम के लिए एक अलग नाम का इस्तेमाल तो किया लेकिन इसमें उनके व्यक्तिगत डीटल और फोटोज़ हैं।

पढ़ें : J&K: तनाव के बीच प्रदर्शनकारियों ने फूंका सचिवालय

पुलिस इंक्वॉयरी में सही निकला अकाउंट

जब इस संबंध में जातिया से पूछताछ हुई तो उन्होंने कहा कि वह इस अकाउंट को चलाते तो हैं लेकिन उन्होंने जैन मुनि के खिलाफ कोई आपत्तिजनक कंटेंट नहीं लिखा।

उन्होंने कहा कि फेसबुक पर जैन मुनि तरुण सागर के आरक्षण के खिलाफ बयान की आलोचना करता एक पोस्ट उन्होंने शेयर जरूर किया था।

कोतवाली पुलिस स्टेशन के इनचार्ज एसएस राजपूत ने कहा कि शिकायत को सायबर सेल के पास फॉरवर्ड कर दिया गया है। कलेक्टर श्रीनिवास शर्मा ने कहा कि इस मामले में जांच के आधार पर ही कोई कार्रवाई होगी।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Madhya Pradesh official under fire for ‘FB post against Jain guru’.
Please Wait while comments are loading...