• search

ट्रंप का दावा ग़लत, ओबामा और बुश को ज़्यादा लोगों ने सुना

Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
    डोनल्ड ट्रंप
    Alex Wong/Getty Images
    डोनल्ड ट्रंप

    अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने दावा किया था कि 'इतिहास में सबसे अधिक' लोगों ने अमरीकी कांग्रेस में दिए गए उनके स्टेट ऑफ़ द यूनियन स्पीच को टेलीविज़न पर सुना.

    लेकिन बीते सालों के रेटिंग्स डेटा ने ट्रंप के इस दावे को पूरी तरह से ग़लत ठहरा दिया है.

    अमरीका में टेलिविज़न रेटिंग संबंधी आंकड़ों पर नज़र रखने वाली कंपनी नीलसन का कहना है कि ट्रंप ने 'अब तक सबसे अधिक 4.56 करोड़' लोगों के टीवी पर उनका स्टेट ऑफ़ द यूनियन स्पीच सुनने का दावा किया था जो ग़लत है.

    नीसलन का कहना है पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, बिल क्लिंटन और जॉर्ज डब्ल्यू बुश की स्पीच को ट्रंप से अधिक लोगों टीवी पर सुना है.

    18 लाख अप्रवासियों को नागरिकता देंगे ट्रंप?

    यातना सेंटर ग्वांतानामो बे फिर से खोलेंगे ट्रंप

    हालांकि ट्रंप का स्पीच सोशल मीडिया ट्विटर पर भी सुना गया था. ट्विटर के अनुसार ट्रंप के स्पीच के बीरे में 45 लाख ट्वीट किए गए थे जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है.

    ट्रंप ने अपने स्पीच के बारे में सोशल मीडिया पर लिखा था, "स्टेट ऑफ़ द यूनियन स्पीच के बारे में अपनी राय रखने और विश्लेषण करने के लिए धन्यवाद. इस स्पीच को 4.56 करोड़ लोगों ने देखा जो इतिहास में सबसे अधिक है. पहली बार फ़ॉक्स न्यूज़ को सभी चैनलों के मुकाबले सबसे अधिक देखा गया, 1.17 करोड़ लोगों ने इस चैनल पर मेरा स्पीच देखा. दिल की बात दिल तक पहुंची."

    लेकिन नीलसन से मिले आंकड़ों की मानें तो 2010 में बराक ओबामा के पहले आधिकारिक स्टेट ऑफ़ द यूनियन स्पीच को 4.8 करोड़ लोगों ने देखा, जबकि साल 1993 में बिल क्लिंटन के स्टेट ऑफ़ द यूनियन स्पीच को 6.69 करोड़ लोगों ने देखा था. ये अपने आप में एक रिकॉर्ड था.

    क्या ट्रंप के पास वाक़ई कोई 'परमाणु बटन' है?

    साल 2003 में इराक़ युद्ध के कुछ सप्ताह पहले जॉर्ज डब्ल्यू बुश ने जो स्पीच दी थी उसे 6.21 करोड़ लोगों ने देखा था.

    नीलसन ने इस बात की पुष्टि की है कि ट्रंप की स्पीच को देखने वालों में से एक चौथाई यानी 1.15 करोड़ लोगों ने फॉक्स न्यूज़ पर इसे देखा था.

    नीलसन का ये सर्वेक्षण 12 टेलिविज़न नेटवर्क से मिले आंकड़ों पर आधारित है और उन आंकड़ों को नहीं दर्शाता जिन्होंने इंटरनेट पर ट्रंप की स्पीच को देखा था.

    सीएनएन का कहना है कि ट्रंप की स्पीच के शुरू होने के एक घंटे के भीतर 3.2 लाख लोग इंटरनेट पर उनके लाइव वीडियो को देख रहे थे.

    ट्विटर का कहना है कि ट्विटर के अब तक के इतिहास में सबसे अधिक ट्रेंड करने वाला भाषण इस साल का स्टेट ऑफ़ द यूनियन स्पीच था और इसके बारे में 45 लाख ट्वीट किए गए.

    ट्रंप की आलोचना के शिकार एफ़बीआई उपनिदेशक ने पद छोड़ा

    'रूसी दख़ल' पर ट्रंप के अटॉर्नी जनरल से पूछताछ

    डोनल्ड ट्रंप का भाषण
    EPA/DAVID MAUNG
    डोनल्ड ट्रंप का भाषण

    ट्रंप के शपथग्रहण समारोह को टेलीविज़न पर देखने वालों की तुलना में मंगलवार रात को दिए गए भाषण के दौरान उन्हें देखने वालों की संख्या अधिक बताई जा रह है. बीते साल जनवरी में 3.1 करोड़ लोगों ने ट्रंप का शपथग्रहण समारोह टीवी पर देखा था.

    लेकिन ये पहली बार नहीं है जब ट्रंप ने उनका भाषण सुनने वाले दर्शकों के आंकड़ों को बढ़ा-चढ़ा कर बताया है.

    बीते साल उन्होंने दावा किया था कि वॉशिंगटन डीसी के नेशनल मॉल में 15 लाख लोगों ने उनके शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लिया था.

    हालांकि उनके तत्कालीन प्रेस सचिव ने ट्रंप के इस दावे को ग़लत ठहराया था और अनुमान लगाया था कि उस वक्त लगभग 7 लाख लोगों ने ट्रंप को सुना था.

    विरोध और जश्न के बीच हुआ ट्रंप का शपथ ग्रहण

    रॉलिंग स्टोन पत्रिका में साल 2015 में छपे अपने बरे में छपे लेख में ट्रंप ने कहा था कि उनका निजी 757 विमान अमरीकी राष्ट्रपति के एयर फोर्स वन जेट विमान से बड़ा है.

    एयर फोर्स वन जेट विमान 225 फुट यानी 68 मीटर लंबा है जबकि ट्रंप का विमान 153 फुट है.

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Trump claims wrong Obama and Bush heard more people

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X