• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मध्य प्रदेश: Covid-19 Vaccine से वॉलंटियर की मौत? परिवार के आरोप के बाद मचा हड़कंप

|

नई दिल्ली। coronavirus vaccine: भारत में कोरोना वायरस वैक्सीन के टीकाकरण की तैयारियों के बीच मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी भोपाल (Bhopal) से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक भोपाल में 21 दिसंबर, 2020 को एक दिहाड़ी मजदूर दीपक मरावी (Deepak Maravi) की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई, बताया जा रहा है कि दीपक कोविड-19 वैक्सीन ट्रायल के प्रतिभागी थे। परिवार का आरोप है कि दीपक की मौत कोरोना वायरस की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) की वजह से हुई है।

    Bhopal: Corona Vaccine का ट्रायल डोज लेने के 9 दिन बाद वालंटियर की मौत, जांच शुरु | वनइंडिया हिंदी
    सरकार और वैक्सीन कंपनी पर लगाया आरोप

    सरकार और वैक्सीन कंपनी पर लगाया आरोप

    एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक 47 वर्षीय दीपक मरावी की मौत पिछले वर्ष 21 दिसंबर को हुई। वह टीला जमालपुरा स्थित सूबेदार कॉलोनी स्थित अपने घर में मृत पाए गए। परिवार का आरोप है कि कोविड-19 वैक्सीन ट्रायल में वॉलंटियर थे और उनकी मौत वैक्सीन के डोज से हुई है। परिवार ने यह भी आरोप लगाया कि, दीपक मरावी के कोविड-19 वैक्सीन वॉलंटियर होने के बावजूद ना ही राज्य सरकार और ना ही वैक्सीन निर्माता कंपनी ने उनका फॉलोअप किया। इसके अलावा परिवार को भी इस बात की जानकारी नहीं दी गई थी कि दीपक मरावी एक कोविड-19 वैक्सीन वॉलंटियर हैं।

    हरकत में आई पुलिस

    हरकत में आई पुलिस

    मामला प्रकाश में आने के बाद से हड़कंप मचा हुआ है, अब पुलिस भी हरकत में आ गई है। दीपक मरावी की संदिग्ध मौत को लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है और यह जानने की कोशिश कर रही है कि दीपक को किस कंपनी की वैक्सीन दी गई थी। हालांकि दीपक की मौत कोरोना वायरस वैक्सीन से हुई है या कोई और वजह है, इसका खुलासा पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट के आने के बाद ही होगा। इस बीच पुलिस को मृतक दीपक की विसरा रिपोर्ट सौंप दी गई है। मामले की जांच की जा रही है। दीपक के निधन पर बयान जारी करते हुए एमपी के स्वास्थ्य मंत्री प्रभु राम चौधरी ने कहा, टीकाकरण के बाद के प्रभाव 30 मिनट के भीतर एक व्यक्ति में दिखाई देते हैं। टीकाकरण के 24 और 48 घंटे के बीच भी कोई दुष्प्रभाव नहीं देखा गया, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जहर के संकेत मिले हैं।

    देश में Coronavirus का तांडव जारी

    देश में Coronavirus का तांडव जारी

    गौरतलब है कि भारत में कोरोना वायरस का कहर जारी है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय का कहना है कि देश में एक दिन के भीतर कोरोना वायरस के 18,222 नए मामले, 19,253 रिकवरी और 228 मौत दर्ज की गई हैं। जिसके बाद मामलों की कुल संख्या 1,04,31,639 हो गई है। इसमें 1,00,56,651 रिकवरी, 2,24,190 सक्रिय मामले और 1,50,798 मरीजों की मौत शामिल है। आपको बता दें कोरोना वायरस के कहर के बीच दुनिया के कई देशों में टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। भारत में जल्द ही ये प्रक्रिया शुरू होने वाली है। लेकिन फिर भी कई देशों में स्थिति पहले से भी ज्यादा खराब है।

    कोरोना वैक्सीन पर PM मोदी करेंगे चर्चा

    कोरोना वैक्सीन पर PM मोदी करेंगे चर्चा

    आपको बता दें कि भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सीन नामक दो वैक्सीन को आपातकाल स्थिति में इस्तेमाल करने की मंजूरी दे दी गई है। इस बीच टीकाकरण को लेकर भी तैयारियां जोरो-शोरों पर है। इसी क्रम में 11 जनवरी, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देशभर के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। ये बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग क जरिए होगी, जिसमें राज्यों में कोरोना संक्रमण के हालात और कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण को लेकर चर्चा की जाएगी।

    उमर अब्दुल्ला ने कोरोना वैक्सीन पर उठाए सवाल, कहा- हम अभी तक मॉक ड्रिल क्यों कर रहे हैं?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Madhya Pradesh family alleges Volunteer passes away from Covid-19 Vaccine
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X