• search
छत्तीसगढ़ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

मालिक की जान बचाने लड़ गया भालू से कुत्ता,देखें वीडियो

कहते हैं इंसानों का सबसे वफादार पालतू जानवर कुत्ता होता है। आपने कुत्तो की वफदारी के कई किस्से सुने होंगे।
Google Oneindia News

Viral Video कहते हैं इंसानों का सबसे वफादार पालतू जानवर कुत्ता होता है। आपने कुत्तो की वफदारी के कई किस्से सुने होंगे। आज हम आपको ऐसी ही घटना बताने जा रहे हैं,जिसमे एक मामूली से लगने वाले वाले पालतू कुत्ते ने अपने मालिक की जान बचाने के लिए खूंखार भालू से पंगा ले लिया। घटना छत्तीसगढ़ के कांकेर की है।

कांकेर में भालुओं का आतंक

कांकेर में भालुओं का आतंक

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक वीडियों जमकर वायरल हो रहा है,जिसमे एक कुत्ता ,खतरनाक भालू को खदेड़ता नजर आ रहा है। दरअसल यह वीडियों छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले का है,जहां बीते कुछ दिनों से रिहायशी इलाकों में जंगली भालुओं का चहलकदमी बढ़ती ही जा रही है। हालत यह हैं कि हर दिन भालू जंगलों से निकलकर शहर में घूमते देखे जा रहे हैं। यह खतरनाक प्राणी खाने की तलाश में लोगों के घर में घुसने का प्रयास करते हैं। शहर के रोशन साहू भालुओं की इसी चहलकदमी का शिकार होते-होते बच गया।

डेजी ने बचाई मालिक की जान

डेजी ने बचाई मालिक की जान

मिली जानकारी के मुताबिक बीते गुरुवार कांकेर के लाल माटवाड़ा क्षेत्र के रोशन साहू नाम के एक व्यक्ति के घर में भालू घुस गया रोशन आराम कर रहे थे,तभी भालू उनके बेहद निकट पहुंच गया। भालू हमलाकर पाता,उससे पहले रोशन साहू के पालतू कुत्ते डेजी ने भालू को आपस जंगल में तक खदेड़ दिया।
डेजी नाम की डॉग खूंखार भालू के सामने तब तक डटी रही जब तक वह वापस भाग नहीं गया। इस घटना का वीडियो आप खबर के अंत में देख सकते हैं।

शादी में पहुंच गया था भालू, बच्चो के साथ स्टेज में चढ़ गई थी मादा

शादी में पहुंच गया था भालू, बच्चो के साथ स्टेज में चढ़ गई थी मादा

इस साल फरवरी माह में कांकेर शहर में ही आयोजित एक शादी समारोह में मादा भालू अपने दो नन्हे शावकों के साथ पहुंच गई थी और दूल्हा दुल्हन के लिए तैयार किये गए स्टेज पर चढ़ गई थी। बताया जा रहा है कि जंगल से सटे होने के कारण कांकेर शहर में अक्सर जंगली जानवर घुस आते हैं।

जब इवनिंग वाक पर निकली भालुओं की फैमिली

जब इवनिंग वाक पर निकली भालुओं की फैमिली

हाल में ही एक वीडियो सामने आया था,जिसमे कांकेर शहर के बीचो बीच जंगली भालू पूरी फैमिली के साथ घूम रहे थे, शाम को शहर में धमाचौकड़ी मचाने के बाद वह देर रात्रि एक स्कूल में भी घुस गए थे । इसके बाद गलियों में भी इधर से उधर दौड़ लगाते रहे।कुछ लोगो ने भालुओं को घूमता देख खुद को कार के अंदर बंद कर लिया,तो कुछ इनका वीडियो बनाने में जुट गए। रिहायशी इलाके में जंगली भालू की चहलकदमी की सूचना मिलने पर पुलिस विभाग के जवान सबसे पहले पहुंचे,लेकिन भालू से पुलिस कैसे निपटती,लिहाजा वन विभाग की टीम को बुलाया गया था ।

तेंदुओं का भी है खतरा

तेंदुओं का भी है खतरा

शहर में तेंदुआ भी घूम रहा है इसी साल के जुलाई महीने में कांकेर सिटी से लगे हुए ग्राम ठेलकाबोड, छोटेपारा में छोटी पहाड़ी पर एक मादा तेंदुए ने अपने तीन शावकों के डेरा डाल दिया था। तेंदुए के गांव में घुसने के बाद ग्रामीण डर गए थे. जिसके बाद स्कूलों और सरकारी दफ्तरों में छुट्टी कर दी गई थी, क्योंकि गांव पहाड़ी के ही पास है ।

इसके अलावा कांकेर के रामनगर में तेंदुए के देखे जाने की भी सुचना मिल रही है। बहरहाल कांकेर में पुलिस विभाग और वन विभाग दोनों मिलकर पब्लिक को अपराधियों के साथ ही जानवरो के आतंक से भी सुरक्षित रखने में व्यस्त देखे जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें छत्तीसगढ़ में काफी दिनों बाद दिखा सफेद भालू, लोग तो इसे विलुप्त मान बैठे थे

Comments
English summary
The dog fought with the bear to save the life of the owner, watch video
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X