RBI ने दी खुशखबरी, 0.25 फीसदी घटाई ब्याज दरें

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। आज भारतीय रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति की समीक्षा की है और ब्याज दरों में कटौती कर दी है। खुदरा मुद्रास्फीति के रिकॉर्ड निचले स्तर पर जाने के बाद पहले से ही यह माना जा रहा है कि बैंक इस बार ब्याज दरों में कटौती कर सकता है। बैंक की तरफ से की गई इस कटौती से हर उस व्यक्ति को फायदा होगा, जिसने कोई लोन लिया है।

25 बेसिस प्वाइंट की कटौती

25 बेसिस प्वाइंट की कटौती

भारतीय रिजर्व बैंक ने ब्याज दरों में 25 बेसिस प्वाइंट यानी 0.25 फीसदी की कटौती की है। एसोचैम ने भी आरबीआई से ब्याज दरों में 25 आधार अंकों की कटौती करने का आग्रह किया है। RBI की तरफ से रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कटौती के बाद अब नई दर 6 फीसदी हो गई है, जो पहले 6.25 फीसदी थी। आपको बता दें कि रेपो रेट वह दर होती है, जिस पर भारतीय रिजर्व बैंक अन्य बैंकों को कर्ज देता है।

अन्य दरों की क्या है स्थिति?

अन्य दरों की क्या है स्थिति?

भारतीय रिजर्व बैंक ने रिजर्व रेपो रेट को 5.75 फीसदी कर दिया है। इसके अलावा, मार्जिनल स्टैंडिंग फैसिलिटी रेट और बैंक रेट को भारतीय रिजर्व बैंक ने 6.25 फीसदी कर दिया है। भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने कहा है कि पिछले तीन महीनों में जीएसटी और अच्छे मानसून के चलते इंफ्लेशन में तेजी से गिरावट आई है।

Child Birth Certificate Online Just in 20 rupees, know how । वनइंडिया हिंदी
सस्ता होगा लोन

सस्ता होगा लोन

अगर आपने किसी भी तरह का लोन लिया हुआ है तो आपके ऊपर पड़ने वाला बोझ दरों में कटौती के चलते कम हो जाएगा। इसका सीधा असर आपकी ईएमआई पर पड़ेगा। हर महीने दी जाने वाली ईएमआई सस्ती हो जाएगी। दरें कम होने से होम लोन, एजुकेशन लोन, कार लोन, बिजनेस लोन सभी की ईएमआई सस्ती हो जाएगी।

बचेंगे पैसे

बचेंगे पैसे

लोन की ईएमआई कम होते ही आपके पैसे बचने शुरू हो जाएंगे, क्योंकि आपको पहले की तुलना में हर महीने अब कम पैसे खर्च करने होंगे। ऐसी स्थिति में आप अपने उन बचे हुए पैसों का इस्तेमाल कहीं और कर सकते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
RBI monetary policy review: here are all the updates
Please Wait while comments are loading...