• search
बिहार न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Inter Exam 2023: बिहार में फिर 'लापरवाही की परीक्षा' ! Exam से सप्ताह भर पहले सेंटर पर पहुंच गए Question Paper

Inter Exam 2023: बिहार के जमुई जिला में परीक्षा के एक सप्ताह पहले ही प्रश्न पत्र परीक्षा केंद्रों पर पहुंचा दिए गए। वहीं ग्रामीणों ने नाराज़गी जताते हुए कहा कि इन्हीं सब वजहों से पेपर लीक होता है।
Google Oneindia News

Inter Exam 2023: बिहार में प्रश्नपत्र लीक होने के मामले सामने आते रहते हैं। कभी ऑनलाइन एग्ज़ाम में सर्वर हैक कर बाहर से प्रश्न सॉल्व होते हैं, तो कहीं पेपर ही लीक हो जाता है। वहीं अब बिहार के जमुई जिले से एक और बड़ी लापरवाही की खबर सामने आई है, जहां इंटर परीक्षा होने के एक सप्ताह पहले ही प्रश्नपत्र एग्ज़ाम सेंटर पर भेज दिए गए हैं। ग़ौरतलब है कि परीक्षा के लिए आए प्रश्नपत्र को कोषागार केंद्र (treasury center) पहुंचाने की बजाए जिले के 25 परीक्षा केंद्रों पर गी भेज दिया गया। मामले का खुलासा होने पर इलाके में हड़कंप मचा हुआ है, वहीं लोगों का कहना है कि इस तरह ही पेपर लीक भी होता है। परीक्षा केंद्रों पर एग्ज़ाम से सप्ताह भर पहले प्रश्न पत्र पहुंचाना कहीं से भी उचित नहीं है।

देर रात उठा मामले से पर्दा

देर रात उठा मामले से पर्दा

जमुई के प्लस टू हाई स्कूल (कचहरी चौक) में सोमवार 23 जनवरी को प्रश्न पत्र पहुंचा दिया गया। गौरतलब है कि अभी एग्ज़ाम होने में करीब सप्ताह भर का वक्त बचा हुआ है। परीक्षा से सप्ताह भर प्रश्न पत्र पहुंचने की जानकारी मीडिया को हुई तो पत्रकारों ने मौके पर जाकर मामले की जानकारी जुटाने लगे। वहीं विद्यालय प्रबंधन मामले को दूसरा ही रंग देने लगे। प्रबंधकों ने कहा कि यह प्रश्नपत्र नहीं बल्कि इंटर की कॉपी है। इस तरह वह बातों से मीडिया कर्मियों को घुमाते रहे लेकिन देर रात में मामले से पर्दा उठ ही गया।

Recommended Video

    बिहार में फिर 'लापरवाही की परीक्षा' ! Exam से सप्ताह भर पहले सेंटर पर पहुंच गए Question Paper
    कोषागार की जगह परीक्षा केंद्रों पर पहुंच गए प्रश्न पत्र

    कोषागार की जगह परीक्षा केंद्रों पर पहुंच गए प्रश्न पत्र

    शिक्षा विभाग के वरीय पदाधिकारी की लापरवाही की वजह से यह मामला हुआ है। कोषागार पहुंचाने की जगह प्रश्न पत्र जमुई जिले के 25 केंद्रों पर गलती से पहुंचा दिया गया। आपको बता दें कि इंटर की परीक्ष 1 फरवरी से शुरु होने वाली है। कोषागार पहुंचने की बजाए परीक्षा केंद्रों पर प्रश्न पत्र पहुंचने से पेपर लीक होने की आशंका भी जताई जा रही है। स्थानीय लोगों में भी नाराज़गी देखने को मिल रही है। उनका कहना है कि जो पैसे वाले होंगे वह पैसे देकर पेपर लीक करवा लेते हैं, इसी वजह से ग़रीब बच्चों के हुनर को पहचान नहीं मिल पाती है।

    शिक्षा विभाग की तरफ़ से बड़ी लापरवाही

    शिक्षा विभाग की तरफ़ से बड़ी लापरवाही

    परीक्षा केंद्रों पर प्रश्न पत्र पहुंचने का मामला जब मीडिया में उजागर हुआ तो जिला प्रशासन ने भी मुद्दे को गंभीरता से लिया। वहीं शिक्षा विभाग के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। वहीं जब पत्रकारों ने उनसे सवाल किया तो वह विभागीय दस्तावेज बताते हुए बचते नज़र आए। वहीं उन्हें जब प्रश्न पत्र लिखा हुआ स्टीकर दिखाया गया तो वह कैमरे पर कुछ भी कहते हुए वहां से भागते नज़र आए। वहीं इस पूरे मामले में डीएम अवनीश कुमार सिंह ने जांच करने की बात कही है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि लापरवाही करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई भी की जाएगी। वहीं इस मामले में कोई भी ज्यादा कुछ बोलना नहीं चाह रहा है क्योंकि यह बड़ी लापरवाही शिक्षा विभाग की तरफ़ से हुई है।

    ये भी पढ़ें: Bihar के इन ज़िलों में डॉक्टरों की ड्यूटी हुई सख़्त, मोबाइल में Device लगाकर होगी निगरानी, जानिए मामला

    Comments
    English summary
    Inter Exam 2023 question Paper Delivered In Examination Centre 1 Weak Before
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X