• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

किस्मत बदल देते हैं भगवान पर चढ़ाए जाने वाले फूल

By Pt. Gajendra Sharma
|

नई दिल्ली। हमारी पूजा पद्धति में फूल एक महत्वपूर्ण सामग्री है। फूलों के बिना पूजा अधूरी मानी जाती है। प्रत्येक देवी या देवता को सुगंधित फूल पसंद होते हैं। क्या आप जानते हैं देवी-देवताओं पर चढ़ाए जाने वाले यही फूल आपकी किस्मत बदल सकते हैं। फूल न केवल भगवान को प्रसन्न करते हैं बल्कि ग्रहों की पीड़ा से भी मुक्ति दिलाते हैं। आइए जानते हैं कौन सा फूल चढ़ाने से क्या लाभ होता है।

भगवान विष्णु की कृपा पाने को चढ़ाएं ये फूल

भगवान विष्णु की कृपा पाने को चढ़ाएं ये फूल

अपराजिता के फूल: यह अत्यंत सुंदर नीले रंग का मोर के समान दिखने वाला फूल होता है। अपराजिता का फूल भगवान विष्णु और शनिदेव को प्रिय होता है। इसलिए भगवान विष्णु की कृपा पाने और शनि की पीड़ा से मुक्ति के लिए उन्हें अपराजिता का पुष्प जरूर अर्पित करें। इससे मानसिक सुख-शांति, संपन्नता आती है। शनिदेव को शनिवार के दिन यह फूल अर्पित करने से साढ़ेसाती, ढैया आदि की पीड़ा कम होती है।

आंकड़े का फूल: आंकड़े का फूल भगवान शिव को प्रिय है। आयु, आरोग्य की प्राप्ति के लिए भगवान शिव का सोमवार के दिन आंकड़े के फूल से पूजन करें। जीवन में शत्रु परेशान कर रहे हों या किसी भी कार्य में सफलता नहीं मिल पा रही है तो प्रतिदिन आंकड़े के फूल शिवजी को अर्पित करें। भगवान शिव को सफेद अपराजिता का पुष्प भी चढ़ाया जाता है।

श्रीकृष्ण को चढाएंगे ये फूल तो पूरी होगी कामना

श्रीकृष्ण को चढाएंगे ये फूल तो पूरी होगी कामना

चमेली के फूल: चमेली का फूल अत्यंत सुगंधित पुष्प होता है। यह वैसे तो किसी भी देवी-देवता को चढ़ाया जा सकता है लेकिन यदि अपनी किसी विशेष कामना की पूर्ति के साथ भगवान विष्णु या श्रीकृष्ण को अर्पित किया जाए तो वह कामना जरूर पूरी होती है। चमेली का फूल हनुमानजी को भी अत्यंत प्रिय है। हनुमानजी को चमेली का फूल चढ़ाने से नवग्रहों की पीड़ा से मुक्ति मिलती है।

वैजयंती के फूल: प्रेम, आकर्षण, सम्मोहन, आकर्षक व्यक्तित्व प्राप्त करना चाहते हैं तो वैजयंती के फूल आपकी सहायता कर सकते हैं। भगवान श्रीकृष्ण को वैजयंती के फूल बहुत प्रिय होते हैं। वे इसकी माला गले में धारण करते हैं। भगवान श्रीकृष्ण को प्रतिदिन वैजयंती के फूल चढ़ाए जाएं तो जातक के व्यक्तित्व में भी आकर्षण प्रभाव पैदा हो जाता है। इसके बीजों की माला धारण करने धन की प्राप्ति होती है और समस्त ग्रह दोषों से बचाव होता है। पुष्य नक्षत्र के दिन इसकी माला धारण करना चाहिए।

देवी को चढ़ाएंगे ये फूल तो होगा भाग्योदय

देवी को चढ़ाएंगे ये फूल तो होगा भाग्योदय

लाल गुड़हल का फूल: देवी लक्ष्मी और देवी दुर्गा दोनों को गुड़हल का फूल पसंद है। साथ ही हनुमान जी का भी प्रिय फूल है गुड़हल। मंगल को हनुमानजी और दुर्गा देवी तथा शुक्रवार को मां लक्ष्मी का गुड़हल के फूल से पूजन करने से सुख, समृद्धि, धन संपदा प्राप्त होती है। इससे ग्रहों की पीड़ा भी दूर होती है और भाग्योदय होता है।

कमल के फूल: मां लक्ष्मी को कमल के पुष्प अत्यधिक प्रिय होते हैं। चित्रों, मूर्तियों में उनके स्वरूप को कमल के फूल पर विराजित दर्शाया जाता है। यह फूल अत्यंत शुद्ध, पवित्र और सौभाग्यशाली माना जाता है। शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी कमल के पुष्प अर्पित करने से घर-परिवार में सुख-समृद्धि आती है। कमल के बीजों की माला यानी कमलगट्टे की माला से श्रीसूक्त के जाप किए जाएं तो अतुलनीय संपदा प्राप्त होती है।

धन, सम्मान और विवाह सुख प्रदान करती है हरिद्रा माला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
flowers offered to god are magical for life
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X