• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

हेमंत सरकार का बड़ा फैसला: दुर्घटना के घायलों को अस्पताल पहुंचाया,तो मिलेंगे 2000 रुपये

रांची,29 सितंबरः मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन की अगुआई वाली झारखंड सरकार ने प्रदेश में गुड सेमेरिटन (नेक नागरिक) योजना के तहत उन लोगों को पुरस्कार देने की योजना को धरातल पर उतारने के लिए एसओपी को स्वीकृति प्रदान कर दी है। ने
Google Oneindia News

रांची,29 सितंबरः मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन की अगुआई वाली झारखंड सरकार ने प्रदेश में गुड सेमेरिटन (नेक नागरिक) योजना के तहत उन लोगों को पुरस्कार देने की योजना को धरातल पर उतारने के लिए एसओपी को स्वीकृति प्रदान कर दी है। नेक नागरिक वो लोग होंगे जो किसी दुर्घटना में घायल व्यक्ति को बिना किसी विशेष संबंध और वित्तीय लाभ अथवा पुरस्कार की उम्मीद किए बगैर अस्पताल पहुंचाता है।

jobs

दुर्घटना होने के एक घंटे के अंदर मरीजों को अस्पताल पहुंचाने पर उनके बचने की संभावना प्रबल हो जाती है। ऐसे मरीजों को अस्पताल पहुंचानेवाले एक व्यक्ति को दो हजार रुपये, दो व्यक्ति होने पर दो-दो हजार रुपये और दो व्यक्ति से अधिक के होने पर सामूहिक रूप से पांच हजार रुपये मुहैया कराए जाएंगे। यह राशि प्रदान करने के लिए सभी जिला परिवहन पदाधिकारी को 25 हजार रुपये प्रति सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के हिसाब से दिए जाएंगे। यह राशि डीटीओ बिना देर किए संबंधित स्वास्थ्य केंद्र को मुहैया कराएंगे।

नेक नागरिकों को किसी मामले में गवाही के लिए बुलाने की स्थिति में उन्हें हर बार आने पर एक हजार रुपये का भुगतान किया जाएगा। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा गुड सेमेरिटन से संबंधित प्रतिवेदन हर महीने की पांच तारीख को उपलब्घ कराया जाएगा। इसके बाद हर महीने सात तारीख को सभी डीटीओ अपने क्षेत्र की रिपोर्ट तैयार कर सड़क सुरक्षा विभाग को भेजेंगे।

Comments
English summary
Big decision of Hemant government: If the injured of the accident are taken to the hospital, then you will get 2000 rupees
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X