• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

दिल्ली की सभी अनधिकृत कॉलोनियां जुड़ेंगी सीवर प्रणाली से, इन कॉलोनियों से होगी शुरुआत

Google Oneindia News

नई दिल्ली, अक्टूबर 02। यमुना नदी में अपशिष्ट को बहने से रोकने के लिए दिल्ली सरकार ने सभी अनधिकृत कॉलोनियों और गांवों को सीवर प्रणाली से जोड़ने का फैसला किया है। एक आधिकारिक बयान में शनिवार को यह जानकारी दी गई। बयान के मुताबिक, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस संबंध में दिल्ली जल बोर्ड (डीजेबी) की कई परियोजनाओं को मंजूरी दी है।

Delhi government

बयान में कहा गया है कि इन परियोजनाओं के तहत दिल्ली सरकार भूजल प्रवाह का आकलन करने के लिए नवनिर्मित झीलों पर एक अध्ययन करेगी। इसमें कहा गया है कि रोहिणी झील नंबर 1 और 2 की मौजूदा क्षमता को भी बढ़ाया जाएगा।

बयान में सिसोदिया के हवाले से कहा गया है, "केशोपुर फेज-1 एसटीपी (सीवेज शोधन संयंत्र) की क्षमता 12 एमजीडी से बढ़ाकर 18 एमजीडी की जाएगी, जिससे अपशिष्ट जल के बेहतर उपचार में मदद मिलेगी।"

बयान के अनुसार, दिल्ली सरकार संत नगर, सिंघु, शाहबाद, प्रधान एन्क्लेव और कुरेनी जीओसी को घरेलू सीवर कनेक्शन से जोड़ने के लिए एक 'चैंबर' बनाएगी। इसमें बताया गया है कि यह कदम 10 गांवों और 64 कॉलोनियों को घरेलू सीवर कनेक्शन से जोड़ेगा।

बयान के मुताबिक, पानी की बर्बादी को रोकने के लिए दिल्ली सरकार अलीपुर गेस्ट हाउस से संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर तक पुरानी पाइपलाइनों को बदलकर नयी पाइपलाइन भी बिछाएगी।

Comments
English summary
All unauthorized colonies of Delhi will be connected to the sewer system
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X