पुलिस ने लूटे घर में रखे 60 हजार रुपए, महिलाओं से की बदसलूकी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बुलंदशहर। यूपी के बुलंदशहर से खाकी वर्दी को शर्मसार करने वाला एक मामला सामने आया है। आरोप है कि एक आरोपी को पकड़ने उसके घर गई पुलिस ने रिश्वत की मांग की। रिश्वत न मिलने पर पुलिस ने आरोपी युवक के घर में तोड़-फोड़ की और महिलाओ से बदसलूकी भी की। यहीं नही पुलिस पर घर में रखे 60 हजार रुपए भी लूटने का आरोप लगा है। सकैड़ों लोगो ने पुलिस अधिकारियों से मिलकर पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दी हैं।

क्या है पूरा मामला?

क्या है पूरा मामला?

मामला बुलंदशहर के चौला चोकी थाना क्षेत्र के चोला गांव का हैं। गांव निवासी ओम प्रकाश ने 70 हजार रुपए का सरकारी लोन ले रखा था। लोन की रिकवरी करने के लिए 28 जून को अमीन जय प्रकाश, ओम प्रकाश के घर गया था। अमीन और ओम प्रकाश के बेटे सुधीर में किसी बात को लेकर कहासूनी हो गई। बता दें कि अमीन जय प्रकाश ने सुधीर के खिलाफ सरकारी काम में बाधा डालने का मुकदमा चौला चोकी में दर्ज करा दिया था।

रात में पुलिसवाले आए घर

रात में पुलिसवाले आए घर

ओम प्रकाश ने दी तहरीर में बताया कि चौला चौकी इंचार्ज ने 20 हजार रुपए की रिश्वत ले ली, फिर भी 50 हजार रुपए की और डिमांड कर रहे थे। ओम प्रकाश ने बताया कि रिश्वत देने से मना करने पर 10 जुलाई की देर रात चौला चोकी इंचार्ज और पुलिसकर्मियो ने घर में घुसकर तोड़-फोड़ शुरु कर दी। पुलिस वालो ने घर की महिलाओं के साथ छेड़-छाड़ भी की। यहीं नहीं पुलिसकर्मियो ने घर मे रखे 60 हजार रुपए भी लूट लिए। ओम प्रकाश की माने तो महिलाओं से छेड़-छाड़ करने वाले पुलिसकर्मियो से महिलाओं की हाथापाई भी हुई, जिसमें एक पुलिसकर्मी घायल हो गया।

SP का क्या है कहना?

SP का क्या है कहना?

मंगलवार को चोला गांव के सकैड़ो ग्रामीणों ने पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन भी किया। साथ ही सकैड़ो लोगो ने पुलिस अधिकारियों से मिलकर पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर भी दी हैं। एसपी सिटी प्रवीन रंजन सिंह ने बताया कि कुछ ग्रामीण आज उनसे मिले हैं। पूरे मामले की जांच करवाई जायेगी, जांच मे जो भी दोषी पाये जायेगे उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bulandshahr police looted Rs 60 thousand from house, mistreat women
Please Wait while comments are loading...