• search
राजकोट न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

VIDEO: हा​र्दिक की दोस्त रेशमा पटेल बोली- हिम्मत हो तो किसी गांव से चुनाव लड़ दिखाएं अमित शाह

|

Gujarat News in Hindi, राजकोट। पाटीदार आंदोलन में हार्दिक के साथ रहीं रेशमा पटेल ने लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को चुनाती दे डाली है। शाह की गांधीनगर सीट से दावेदारी पर रेशमा ने कहा है कि शाह जैसे नेता सुरक्षित सीट से चुनाव लड़ते हैं। हिम्मत हो तो वह किसी गांव से चुनाव लड़ दिखाएं।''

रेशमा पटेल ने अमित शाह पर साधा निशाना

रेशमा पटेल ने अमित शाह पर साधा निशाना

रेशमा ने यह बयान उपलेटा में दिया। उन्होंने यहां सुरेंद्रनगर के सांसद देवजी फतेपरा का भी जिक्र​ किया और भाजपा को आड़े हाथों लिया। रेशमा ने कहा, देवजी ने सत्ताधारी भाजपा पर काफी गंभीर आरोप लगाए हैं। इतने सीनियर नेता अगर कोई आरोप लगाते हैं तो उसमें सच्चाई होना स्वाभाविक है। बिना आग के धुंआ कभी नहीं उठता। मेरा भी मानना है कि, भाजपा में लोगों का काम करने वालों को टिकट देने के बजाय रुपये देने वालों को टिकट दे दिया जाता है।''

देवजी फतेपरा ने भाजपाई कमान पर ये आरोप लगाए

देवजी फतेपरा ने भाजपाई कमान पर ये आरोप लगाए

गौरतलब है कि देवजी फतेपरा ने अपना टिकट कट जाने के बाद पार्टी पर रुपयों के लेन-देन के आरोप लगाए। देवजी ने कहा कि मुझे इसलिए टिकट नहीं दिया गया, क्योंकि रुपयों के एवज में यहां का टिकट दूसरे को देने का फैसला ले लिया गया था। वहीं, हर बार की तरह रेशमा पटेल ने भाजपा में तानाशाही के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि इस दल में लोकशाही नहीं है। शाह तानाशाह जैसा बिहेव करते हैं।

रेशमा पटेल कांग्रेस-भाजपा से नहीं, इस दल से लड़ेंगी लोकसभा चुनाव; बोलीं ये बात

15 मार्च को हुई थीं रेशमा भाजपा से अलग

15 मार्च को हुई थीं रेशमा भाजपा से अलग

पाटीदार आंदोलन के बाद रेशमा गुजरात भाजपा में शामिल हुई थीं। हालांकि, 2019 में इसी माह उन्होंने पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कहा था कि भाजपा अब एक मार्केटिंग कंपनी बन कर रह गई है। उन्होंने गुजरात भाजपा अध्यक्ष जीतू वघानी को अपना इस्तीफा सौंपा और पोरबंदर से लोकसभा चुनाव लड़ने की बात कही। इधर, हार्दिक पटेल ने भी 12 मार्च को कांग्रेस ज्वॉइन कर ली थी। ऐसे में रेशमा भी 15 मार्च को भाजपा से अधिकारिक तौर पर जुदा हो गईं। हालांकि, भाजपा में जब तक वे रहीं, तब वह हार्दिक को कांग्रेस का एजेंट कह डालती थीं। अब दोनों ही भाजपा के खिलाफ मैदान में हैं।

भाजपा से अलग हुईं रेशमा पटेल बोलीं- हार्दिक जहां से भी लड़ेंगे चुनाव, वहीं जाकर उनके लिए करूंगी प्रचार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Lok Sabha elections 2019: Reshma Patel target to BJP president Amit Shah
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X