• search
पंजाब न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पंजाब में डेंगू से आए दिन हो रही है मौत, स्वास्थ्य व्यवस्थाओं की खुली पोल, प्रशासन की बढ़ी टेंशन

|
Google Oneindia News

चंडीगढ़, अक्टूबर 19, 2021। पंजाब में डेंगू का क़हर लगातार बढ़ रहा है, दिन पर दिन मरीज़ों की तादाद बढ़ रही है। पंजाब के अलग-अलग ज़िले की बात की जाए तो हर जगह स्वास्थ्य व्यवस्था लचर नज़र आ रही है। मरीज़ों के तीमारदारों का आरोप है कि सरकारी अस्पतालों में इलाज सही से नहीं मिल रहा है। मोहाली में अब तक 18 लोगों की डेंगू से मौत हो चुकी है। सोमवार को भी 24 साल के युवक की डेंगू से मौत हो गई। हर रोज़ मरीज़ों की तादाद बढ़ रही है। सिर्फ़ मोहाली की बात की जाए तो आंकड़ा 1679 पहुंच चुका है।

डेंगू से युवक की मौत

डेंगू से युवक की मौत

मोहाली के जिस युवक की डेंगू से मौत हुई उसके परिवार के लोगों ने बताया उसकी तबितयत करीब 15 दिनों से ठीक नहीं थी। सिविल अस्पताल फेज-6 से दवाई लेकर खा लिय करता था। दशहरे वाले दिन तबीयत ज्यादा बिगड़ गई जिसके बाद उसे अस्पताल लेकर गए लेकिन दवाई देकर उसे घर वापस भेज दिया गया जबकि उसके प्लेटलेट्स काफ़ी कम हो गए थे। उसकी तबितय ज्यादा बिगड़ने पर पीजीआई ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई। परिवार वालों का आरोप है कि अगर जिला सिविल अस्पताल में सही ढंग से इलाज नहीं किया गया।

पठानकोट में भी बढ़ रहे डेंगू के मामले

पठानकोट में भी बढ़ रहे डेंगू के मामले

पठानकोट के भी हालात डेंगू के मामले बद से बदतर होते जा रहे यहां भी डेंगू के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। प्रशासनिक अधिकारी भी अब इसकी चपेट में आ रहे हैं। एसडीएम के बाद अब डीसी की रिपोर्ट भी डेंगू पाजिटिव आई है। बढ़ रहे मरीजों की संख्या से सेहत विभाग के अधिकारी भी परेशान हैं। उनका कहना है कि जिस रफ्तार से मरीजों की संख्या बढ़ रही है उससे अनुमान लगाया जा रहा है कि पिछले पांच साल के दौरान सबसे ज्यादा मरीज आ जाएंगे। दूसरी तरफ सिविल अस्पताल में बेहतर सुविधा न मिलने का लोग आरोप लगा रहे हैं। उनका कहना है कि डेंगू वार्ड में उनकी देखभाल के लिए स्टाफ नहीं है, मरीजों को अगर परेशानी होती है तो उनकी सुध लेने वाला भी कोई नहीं है।

डेंगू का क़हर

डेंगू का क़हर

पिछले तीन साल के मुकाबले में पठानकोट में डेंगू मरीज़ों की तादाद सबसे ज़्यादा 985 पहुंच गई है। सिविल अस्पताल में डेंगू के मरीजों को बेहतर सुविधाएं नहीं मिल रही है। इस वजह से ज्यादातर लोग प्राइवेट अस्पताल की ओर रुख कर रहे हैं। सेहत विभाग की ओर से जारी की गई लिस्ट के मुताबिक पिछले 15 दिनों की रिपोर्ट में औसतन हर दिन 25 डेंगू मरीज़ सामने आ रहे हैं। अस्पताल में डेंगू मरीजों की मुकाबले बेड कम है। डेंगू के मामले बढ़ने की वजह से अस्पताल में बेड की कमी हो रही है। परिजनो का आरोप है कि इसी वजह है कि पॉजिटिव मरीज़ों को भी भर्ती नहीं किया जा रहा है। 150 बेड वाले अस्पताल में डेंगू के मरीजों को सुविधा नहीं मिल पाना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है।

    UP के Agra में डेंगू-वायरल का कहर, Glucose की बोतल पड़ी शॉर्ट, 50 से ज्यादा मौत | वनइंडिया हिंदी
    प्रशासन की बढ़ी टेंशन

    प्रशासन की बढ़ी टेंशन

    कपूरथला ज़िले की बात की जाए तो वहां भी डेंगू का क़हर जारी है मरीजों की तादाद बढ़ रही है। अभी तक 26 नए डेंगू के मरीज़ों की पुष्टि हो चुकी है। जिले में अब तक डेंगू के मरीजों की संख्या 338 तक पहुंच गई है। सेहत विभाग की ओर से लारवा चेक के लिए लगभग 10 टीमों का गठन किया गया है। लारवा चेकिंग टीम अलग-अलग जगहों पर लारवा नष्ट कर रही है। वहीं कुछ जगहों पर अभी भी फॉगिंग नहीं करवाया गाया है। स्थानीय लोगों का आरोप है कि कुछ ही जगहों को चिन्हित कर स्प्रे करवाया गया है। वहीं जिले में स्वास्थ्य व्यवस्था बिल्कुल भी ठीक नहीं है, अस्पताल में सुचारू रूप से इलाज नहीं हो रहा है। लगभग पंजाब के पूरे ज़िला में स्वास्थ्य व्यवस्था राम भरोसे ही चल रही है। आप भी डेंगू के लक्षण जान लें अचानक तेज़ बुखार, सिर में तेज़ दर्द, आंखों के पीछे और मांसपेशियो, बदन जोड़ों में दर्द। डेंगू के लक्षण महसूस होने पर तुरंत जांच करवाएं और डॉक्टर के मशवरा से दवाइयों का सेवन करें।


    ये भी पढ़ें : पंजाब: कांग्रेस और अकाली दल में छिड़ी ज़ुबानी जंग, एक दूसरे पर लगाए ये गंभीर आरोप

    Comments
    English summary
    Dengue case increasing day by day in punjab, patients not getting proper treatment
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X