• search
पंजाब न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पंजाब: कांग्रेस और अकाली दल में छिड़ी ज़ुबानी जंग, एक दूसरे पर लगाए ये गंभीर आरोप

|
Google Oneindia News

चंडीगढ़, अक्टूबर 19, 2021। पंजाब में आतंकवाद, श्री हरिमंदिर साहिब पर हमले और बेअदबी का मुद्दा हर चुनाव में उठता है। शिरोमणि अकाली दल पहले ये मुद्दे उठाती रही है। इस बार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने इस मुद्दे को उठाया है। सीएम चन्नी के आतंकवाद के मुद्दे पर शिरोमणि अकाली दल पर की गई बयानबाज़ी से सियासी सरगर्मियां बढ़ गई हैं । उन्होंने पंजाब में आतंकवाद के काले दौर के लिए अकाली दल को जिम्मेदार ठहराया है। शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता महेशेन्द्र सिंह ग्रेवाल ने चन्नी के इस आरोप पर जवाब देते हुए कहा कि सीएम चन्नी आतंकवाद के लिए अकाली दल को ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं, उन्हें जानाकारी कम है। सीएम चन्नी को यह मालूम होना चाहिए कि 1991 के चुनाव में आतांकवाद की वजह अकाली दल के 27 उम्मीदवार और पार्टी अध्यक्ष शहीद हुए थे। लेकिन कांग्रेस के किसी भी उम्मीदवार को खरोंच तक नहीं आई।

SAD का कांग्रेस पर कटाक्ष

SAD का कांग्रेस पर कटाक्ष

महेशिंदर सिंह ग्रेवाल ने सवाल करते हुए कहा कि जिस वक़्त शिरोमणि अकाली दल के 27 उम्मीदवार और पार्टी अध्यक्ष शहीद हुए थे उस वक़्त कांग्रेस के किन लोगों के साथ संबंध थे। उन्होंने ने कहा कि जनता सब जानती है कि पंजाब का सबसे ज्यादा नुकसान किसने किया है। हमेशा से कांग्रेस ही पंजाब की दुश्मन रही है। गांधी परिवार ने सबसे ज्यादा पंजाब और पंजाबियों का नुकसान किया है। इसके लिए कांग्रेस का नाम पंजाब के इतिहास में काले अक्षरों में लिखा जाएगा। अकाली दल ने पंजाब की तरक्की और खुशहाली के लिए काम किया है।

CM चन्नी पर निशाना

CM चन्नी पर निशाना

शिरोमणि अकाली दल अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल लगातार पंजाब की कांग्रेस सरकार को घेरते हुए नज़र आ रहे हैं। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने बीएसएफ को विशेष अधिकार देने के मुद्दे पर विशेष सेशन और सर्वदलीय बैठक बुलाने का एलान किया था जिस पर सुखबीर सिंह बादल ने कटाक्ष करते कहा कि यह सब हवा हवाई बातें हैं। उन्होंन आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने केंद्र सरकार को लिखित में सहमती देकर आए हैं इसलिए वह इस मुद्दे पर कुछ भी नहीं करेंगे। सीएम चन्नी की सहमती के बाद ही केंद्र सरकार ने बीएसएफ को यह विशेष अधिकार दिए। वहीं सुखबीर सिंह बादल ने कहा सीएम चन्नी के झूठे दावे कर रहे हैं कि उन्हें केंद्र के फ़ैसले का अखबारों से पता चला।

सुनील जाखड़ पर आरोप

सुनील जाखड़ पर आरोप

सुखबीर सिंह बादल ने सुनील जाखड़ पर आरोप लगाते हुए कहा कि अबोहर में जाखड़ का माफिया राज है। नाजायज शराब बेची जा रही है, नकली डीज़ल पकड़े जाने पर कार्रवाई नहीं की जाती है। कपास की फसल सस्ते दाम पर खरीदी जा रही है। वहीं उन्होंने नवजोत सिंह पर भी तंज़ कसा कि सिद्धू के उसूल अब नज़र नहीं आरहे हैं। कैबिनेट में दोबारा से ऐसे लोगों को जगह दी गई है जिन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू अब बैकफुट पर क्यों हैं। चुनावी दौर में सभी सियासी दल एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते रहती है। यह तो आने वाला वक़्त ही बताएगा कि किस पार्टी ने मुद्दे को भुनाने में कामयाबी हासिल की।

सुखबीर बादल पर ज़ुबानी हमला

सुखबीर बादल पर ज़ुबानी हमला

आपको बता दें कि सीएम चन्नी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान गंभीर शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल पर गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था सुखबीर बादल बीएसएफ़ का दायरा बढ़ाए जाने को लेकर भड़काऊ बयानबाजी कर रहे हैं जो कि बिलकुल भी बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है। सीएम चन्नी ने कहा कि वह पंजाब को बुरे हालातों में ले जाना चाहते हैं। पंजाब को सबसे ज्यादा नुकसान अकाली दल के समय ही हुआ है। आतंकवाद के काले दौर के लिए भी अकाली दल ही जिम्मेदार था।


ये भी पढ़ें: CM चन्नी के वो वादे जिनसे पंजाब कांग्रेस की सियासी पकड़ हुई मज़बूत, पढ़िए पूरा मामला

Comments
English summary
Punjab: War of words broke out between Congress and Akali Dal,both parties putted these allegations against each other
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
Desktop Bottom Promotion