• search
पंजाब न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

पंजाब: कांग्रेस के 77 में से 9 विधायकों कट सकता है टिकट, 5 सांसदों पर दांव लगा सकती है पार्टी

|
Google Oneindia News

चंडीगढ़, 14 जनवरी 2022। विधानसभा चुनाव को लेकर सभी सियासी दल पंजाब की सत्ता पर क़ाबिज़ होने के लिए तरह-तरह की रणनीति बना रहे हैं। वहीं कांग्रेस भी सत्ता में दोबारा से आने के लिए पुरज़ोर कोशिश कर रही है। पंजाब में कांग्रेस ने चुनावी सर्वे भी करवाया है ताकि वह चुनावी मैदान में योग्य उम्मीदवारों को उतार सके। पिछल् बार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 77 सीटों पर क़ब्ज़ा जमाया था। इस बार टिकट की दावेदारी में मौजूदा विधायकों के टिकट कट सकते हैं। साथ ही कांग्रेस कुछ नया दांव खेल सकती है। कांग्रेस पार्टी ने पंजाब विधानसभा चुनाव को लेकर केंद्रीय चुनाव समिति ने पहली बैठक बुलाई। ग़ौरतलब है कि उम्मीदवारों को चयन को लेकर दिल्ली में अब तक स्क्रिनिंग कमेटी चार बार बैठक हो चुकी है। केंद्रीय चुनाव समिति को स्क्रिनिंग कमेदी ने 77 उम्मीदवारों के नामों की सूची सौंप दी है।

सांसदों पर भी दांव लगा सकती है पार्टी

सांसदों पर भी दांव लगा सकती है पार्टी

कांग्रेस पंजाब विधानसभा चुनाव के रण में सांसदों पर भी दांव लगा सकती है। सूत्रों की मानें तो कांग्रेस ने अब तक छह चुनावी सर्वेक्षण करवाए हैं। चूंकि कांग्रेस ने पिछली बार 77 सीटों पर क़ब्ज़ा जमाया था, इसलिए इस बार के चुनाव में कांग्रेस सर्वे के आधार पर टिकट बांट रही है। इसलिए इस बार 68 सिटिंग विधायक को टिकट दिया जाएगा, वहीं 9 विधायकों के टिकट कटना तय माना जा रहा है। वहीं कांग्रेस 5 सांसदों पर भी दांव लगाने की कोशिश में है क्योंकि सर्वे में पांच सांसदों के निर्वाचन क्षेत्रों में चुनाव जीतने की उम्मीद है। इसलिए कांग्रेस उन क्षेत्रों से सांसदों को चुनावी मैदान में उतारने पर राय मशवरा कर रही है।

9 विधायकों के कट सकते हैं टिकट

9 विधायकों के कट सकते हैं टिकट

आपको बता दें कि कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा पहले भी बोल चुके हैं कि वह विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। इसके साथ ही सांसद जसबीर सिंह गिल ने भी कहा कि पार्टी अगर उन्हें विधानसभा चुनाव लड़ने के कहेगी तो वह तैयार हैं। पंजाब में कांग्रेस के 8 लोकसभा और 3 राज्यसभा सांसद हैं, पार्टी इनमें से पांच सांसदों पर दांव लगाने का विचार कर रही है। सूत्रों की माने तो केंद्रीय चुनाव समिति ने 77 उम्मीदवारों में 55 नामों अंतिम मुहर लगा दी है। पंजाब कांग्रेस के 9 सीटिंग विधायकों के नाम इस बार चुनाव में काटे जा सकते हैं। 68 मौजूदा विधायकों को टिकट देकर कांग्रेस पार्टी चुनावी मैदान में उतारने की तैयारी कर रही है।

दो सीटों पर चुनाव लड़ सकते हैं CM चन्नी

दो सीटों पर चुनाव लड़ सकते हैं CM चन्नी

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी इस बार दो सीटों से चुनाव लड़ सकते हैं। वर्तमान सीट चमकौर साहिब के साथ जालंधर के 'आदमपुर' से भी सीएम चन्नी चुनावी ताल ठोक सकते हैं। स्क्रिनिंग कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन पहले ही यह साफ कर चुके हैं कि पंजाब में एक परिवार से एक ही सदस्य को टिकट दिया जाएगा। इस फ़ैसले का पार्टी कड़ाई से पालन करेगी। पंजाब कांग्रेस में बग़ावती सुर तेज़ भी होने लगे हैं कई विधानसभा सीटों पर पुराने कार्यकर्ता टिकट की दावेदारी की मांग कर रहे हैं। वहीं पार्टी नए आए हुए सदस्यों को टिकट देने पर विचार कर रही है। इस पर कई विधानसभा के कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि अदर पार्टी ने उनके प्रत्याशी को टिकट नहीं दिया तो वह कांग्रेस को छोड़ कर आम आदमी पार्टी के पक्ष में मतदान करेंगे।


ये भी पढ़ें: पंजाब: मानसा विधानसभा क्यों बना हॉट सीट ? चुष्पिंदरबीर चहल ने खोले टिकट दावेदारी के राज़
English summary
Congress may not give tickets to nine seating MLA, party can bet on five MP
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X