• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

VIDEO : सियासी संकट में महीनेभर बाद गहलोत-पायलट की पहली मुलाकात, विधायल दल की बैठक शुरू

|

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व उप मुख्यमंत्री रहे सचिन पायलट की गुरुवार को मुलाकात हुई। महीनेभर तक चलते राजस्थान के राजनीतिक संकट में पायलट व गहलोत की पहली मुलाकात है। पायलट गुरुवार शाम को गहलोत के आवास पर पहुंचे हैं, जहां पार्टी विधायकों की बैठक चल रही है।

    Ashok Gehlot Meet Sachin Pilot : एक महीने की रस्साकशी के बाद मिले दोनों | वनइंडिया हिंदी

    Sachin Pilot reaches CM Ashok Gehlots residence, to attend Congress Legislature Party

    फायरमोंट होटल से पहुंचे सीएम आवास

    जैसलमेर के सूर्यागढ़ होटल में बांड़ाबंदी करके रखे गए अशोक गहलोत गुट के विधायक बुधवार शाम को जयपुर पहुंचे थे। जयपुर में इन्हें सीधा फायरमोंट होटल ले जाया गया था, जहां से गुरुवार शाम को बसों में सवार होकर सभी विधायक सीएम आवास पर आयोजित बैठक में हिस्सा लेने पहुंचे।

    पूर्व की बैठकों में नहीं आए थे पायलट

    पूर्व की बैठकों में नहीं आए थे पायलट

    बैठक 14 अगस्त को प्रस्तावित राजस्थान विधानसभा सत्र के मद्देनजर रखी गई है। इससे जुलाई में एसओजी का नोटिस मिलने के बाद सचिन पायलट अपने गुट के विधायकों के साथ दिल्ली चले गए थे। विधायकों को हरियाणा के होटल में ठहराया। उस समय राजस्थान में कांग्रेस के विधायकों की बैठक हुई थीं, मगर उनमें पायलट और समर्थक विधायकों ने हिस्सा लिया था।

    इधर, गुरुवार को भाजपा मुख्यालय में प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया व पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की मौजूदगी में बैठक हुई, जिसमें विधानसभा सत्र में गहलोत सरकार को घेरने की तैयारियों पर चर्चा की गई।

     भाजपा लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

    भाजपा लाएगी अविश्वास प्रस्ताव

    मीडिया से बातचीत में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि अशोक गहलोत सरकार में बहुत सारे मतभेद हैं। बीते एक माह के दौरान जो कुछ हुआ। पूरे देश ने देखा है। जिस तरह से उन्होंने संघर्ष किया है। ऐसे में संभावना है कि वे 14 अगस्त को प्रस्तावित राजस्थान विधानसभा में विश्वास मत ला सकते हैं, लेकिन हम भी अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए तैयार हैं। वहीं, भाजपा के वरिष्ठ नेता व नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने भी कहा कि हम अपने सहयोगियों के साथ कल राजस्थान विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव ला रहे हैं।

    पायलट की वापसी से गहलोत सरकार सुरक्षित

    अशोक गहलोत सरकार गिरेगी या नहीं। यह कल विधानसभा सत्र के बाद तय हो जाएगी। हालांकि सचिन पायलट की वापसी से गहलोत सरकार पर मंडराया संकट टल गया है। बीते एक माह से सचिन पायलट अपने गुट के 22 विधायकों के हरियाणा के होटल में थे जबकि अपने साथ 102 से ज्यादा विधायकों का दावा करने वाले सीएम अशोक गहलोत अपने गुट के विधायकों को पहले जयपुर फिर जैसलमेर के होटल में बाड़ाबंदी की। अब दोनों ही गुटों के विधायकों बाड़ाबंदी से निकलकर जयपुर पहुंच चुके हैं।

    राजस्थान : गहलोत सरकार में कई मतभेद, विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाने को हम तैयार-सतीश पूनिया

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Sachin Pilot reaches CM Ashok Gehlot's residence, to attend Congress Legislature Party
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X