• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

राजस्थान के सियासी घटनाक्रम में दिलचस्प किरदार बनकर उभरे गहलोत सरकार के यह मंत्री, बयान के वीडियो वायरल

Google Oneindia News

जयपुर, 28 सितंबर। राजस्थानी में चल रहे सियासी घटनाक्रम के बीच एक दिलचस्प किरदार उभर कर सामने आया है। प्रदेश में इन दिनों गहलोत सरकार के मंत्री राजेंद्र गुढ़ा की खास चर्चा है। प्रदेश के सियासी घटनाक्रम पर गुढ़ा के बयान चर्चा का विषय बने हुए हैं। सोशल मीडिया पर इनके बयान के वीडियो खूब शेयर किए जा रहे हैं। राजेंद्र गुढ़ा झुंझुनू के उदयपुरवाटी से दूसरी बार विधायक हैं। गुढ़ा को राजस्थान में बेबाक बयानबाजी के लिए जाना जाता है। राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने दोनों बार उदयपुरवाटी से बसपा के टिकट पर चुनाव जीता। पिछली बार भी उन्होंने गहलोत सरकार को समर्थन दिया था। इस बार सियासी संकट में गुढ़ा और उनके साथी गहलोत के संकटमोचक बनकर उभरे और बसपा से कांग्रेस में शामिल हो गए। अभी राजेंद्र सिंह गुढ़ा गहलोत सरकार में सैनिक कल्याण और गृह रक्षा मंत्री है।

rajendra gudha

Rajasthan : सोशल मीडिया पर Memes की बाढ़, तंत्र विद्या करते दिखे 'जादूगर', जयपुर में नजर आए 'मोटा भाई'Rajasthan : सोशल मीडिया पर Memes की बाढ़, तंत्र विद्या करते दिखे 'जादूगर', जयपुर में नजर आए 'मोटा भाई'

गहलोत सरकार के संकटमोचक बने

गहलोत सरकार के संकटमोचक बने

साल 2020 में जब सचिन पायलट ने अपनी ही सरकार से बगावत कर ली। तब बसपा से चुनाव जीत कर आए राजेंद्र सिंह गुढ़ा और उनके साथी अशोक गहलोत की सरकार के संकटमोचक बनकर उभरे। इन्होंने न केवल गहलोत सरकार को समर्थन दिया। बल्कि कांग्रेस में शामिल होकर सरकार को स्थिर भी किया। बदले में अशोक गहलोत ने राजेंद्र सिंह गुढ़ा को मंत्री बना कर इनाम दिया। इनके साथी विधायकों को सरकार में एडजस्ट किया गया।

अपनी ही सरकार के खिलाफ बयानबाजी करते हैं गुढ़ा

अपनी ही सरकार के खिलाफ बयानबाजी करते हैं गुढ़ा

राजेंद्र सिंह गुढ़ा राजस्थान में अपनी ही सरकार के खिलाफ बयानबाजी करने के लिए जाने जाते हैं। गहलोत सरकार के संकट के समय साथ देने के बावजूद जब गुढ़ा को लगा कि पार्टी उन से किए वादों को निभा नहीं रही है तो गुढ़ा ने सरकार के खिलाफ आवाज उठाना शुरू कर दिया। गुढ़ा का आरोप था कि उनसे जो कमिटमेंट किए गए। उन्हें पूरा नहीं किया गया। इसके बाद हाल ही में अशोक गहलोत के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने की संभावनाओं के बीच गुढ़ा ने पायलट के पक्ष में बयान बाजी कर सबको चौंका दिया।

मुख्यमंत्री बदलने से पहले बदले सुर

मुख्यमंत्री बदलने से पहले बदले सुर

राजेंद्र सिंह गुड्डा अशोक गहलोत के विश्वसनीय नेताओं में शामिल हैं। लेकिन अशोक गहलोत के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने की संभावनाओं के बीच राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने अपने सुर बदल दिए। गुढ़ा ने पायलट की तारीफ कर सबको चौका दिया। विधायक दल की बैठक को लेकर जयपुर में हुए सियासी घटनाक्रम के बाद गुढ़ा ने लगातार बयानबाजी शुरू कर दी। जिसे लोगो ने सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया।

धारीवाल के खिलाफ डोकरे वाले बयान की चर्चा

धारीवाल के खिलाफ डोकरे वाले बयान की चर्चा

गहलोत सरकार के मंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने हाल ही में प्रदेश में चल रहे सियासी घटनाक्रम पर धारीवाल को लेकर कटाक्ष किया। गुढ़ा ने मंत्री शांति धारीवाल पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इस डोकरे ने सारा काम बिगाड़ दिया। 80 साल का हो गया है। इसके दिमाग का एलाइमेंट बिगड़ गया है। वही एक निजी चैनल को दिए गए इंटरव्यू में मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास पर निशाना साधते हुए गुढ़ा ने कहा कि पता नहीं प्रताप सिंह जी क्या बोल रहे हैं। हम सोनिया जी के इशारे पर खून की नदियां बहा देंगे। तुम मंत्री हो कोई अमरीश पुरी या खलनायक थोड़ी हो। जैसे कोई फिल्म के अंदर अमरीश पुरी या शोले में गब्बर सिंह बोल रहा है। वैसे भाषण दे रहे हैं। खून की नदियां बहा देंगे तलवारे चला देंगे। जयपुर की सड़कों को लाल कर देंगे। सोनिया जी ने तुम्हें इसलिए मंत्री थोड़े बनाया था। गुढ़ा के इन बयानों को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है। लोगों उनके बयानों की जमकर चुटकियां ले रहे हैं।

Comments
English summary
minister Gehlot government emerged interesting character political developments Rajasthan, statement viral
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X