भारत में कश्मीरी और म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमान एक जैसे- आंग सान

Written By: Amit J
Subscribe to Oneindia Hindi

यंगून। रोहिंग्या मुसलमानों पर हो रहे अत्याचार ने लाखों लोगों को म्यांमार से पलायन होने के लिए मजबूर कर दिया है। इस बीच म्यांमार स्टेट काउंसलर आंग सान सू की ने रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे को भारत के कश्मीर से जोड़ा है। आंग सान के अनुसार, 'रोहिंग्या मुसलमानों का मुद्दा और भारत में कश्मीर के मुद्दे के समान है, दोनों देश एक ही प्रकार की समस्याओं से जूझ रहे हैं'।

रोहिंग्या मुसलमानों पर हो रहे अत्याचार ने लाखों लोगों को म्यांमार से पलायन होने के लिए मजबूर कर दिया है

सू की ने कहा कि हमें निर्दोष नागरिकों की देखभाल करनी होगी क्योंकि हमारे संसाधन पर्याप्त रूप से आवश्यक नहीं हैं, लेकिन हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि हर नागरिक को कानूनी संरक्षण मिले।

रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर दुनिया भर में जिस तरह से म्यांमार सरकार की चौतरफा आलोचना हुई है, उसके लेकर सू की ने कहा 'रोहिंग्या मुसलमानों का मुद्दा एक बहुत बड़ी चुनौती है। यह मुद्दा औपनिवेश टाइम से चला आ रहा है। इस मुद्दे को सुलझाने के लिए अभी थोड़ा वक्त लगेगा।

अपने देश में रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे को भारत के कश्मीर से जोड़ते हुए नोबल से सम्मानित म्यांमार की लीडर आंग सान सू की ने कहा, 'हमें आतंकवादियों और निर्दोष लोगों के बीच के अंतर को समझना होगा। भारत के बारे में हम सभी अच्छी तरह जानते हैं कि इस देश में एक बड़ा मुस्लिम समुदाय रहता है और कश्मीर एक ऐसी जगह है, जहां आपको आतंकवाद का सामना करना होता है। वहां आतंकवाद और निर्दोष लोगों के बीच के अंतर को समझना बहुत कठीन है। वहां भी उन सभी को परेशानी होती है जो आतंकवादी आंदोलन में शामिल नहीं हैं'।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Myanmar Rohingya issue is similar to India’s Kashmir: Aung San Suu Kyi
Please Wait while comments are loading...