• search

ग्वाटेमाला ज्वालामुखी.. लावा, राख और तबाही

By Bbc Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
    ग्वाटेमाला ज्वालामुखी
    BBC
    ग्वाटेमाला ज्वालामुखी

    ग्वाटेमाला की राजधानी से करीब 40 किलोमीटर दूर फ्यूएगो ज्वालामुखी में 3 जून को विस्फोट हुआ था. जिसकी चपेट में आकर 62 लोगों की मौत हुई है.

    ग्वाटेमाला
    Reuters
    ग्वाटेमाला

    ज्वालामुखी से निकला लावा बहकर पास के गांवों में पहुंच गया. वहां रह रहे लोगों को बचाने के लिए रात भर बचाव अभियान जारी रहा.

    ग्वाटेमाला
    Reuters
    ग्वाटेमाला

    100 साल से भी ज़्यादा वक्त बाद ग्वाटेमाला में ऐसा भयानकर ज्वालामुखी विस्फोट हुआ है. ग्वाटेमाला के राष्ट्रपति ने तीन दिन का राष्ट्रीय शोक घोषित किया है.

    ज्वालामुखी
    Reuters
    ज्वालामुखी

    ज्वालामुखी के फटने पर लाल-गर्म चट्टानों और गैस का मिश्रण, जिसे पायरोक्लास्टिक फ्लो भी कहा जाता है, पहाड़ से निकलकर बहता हुआ आस-पास के इलाकों में फैल गया.

    ज्वालामुखी
    Reuters
    ज्वालामुखी

    पायरोक्लास्टिक फ्लो में लावा तेज़ी से आगे बढ़ता है, जिसकी वजह से लोगों को बचने का मौका नहीं मिल पाता.

    ज्वालामुखी
    Reuters
    ज्वालामुखी

    फ्यूएगो ज्वालामुखी से लावा तेज़ी से बहकर गांवों में पहुंच गया और घरों में बैठे कई लोग इसमें जलकर मारे गए. सैंकड़ों लोग घायल भी हुए हैं और कई अब भी लापता हैं.

    ज्वालामुखी
    AFP
    ज्वालामुखी

    ज्वालामुखी से निकली राख आसमान में कई किलोमीटर ऊपर तक उछली और राजधानी ग्वाटेमाला सिटी में लोगों और चीज़ों पर गिरी.

    ग्वाटेमाला ज्वालामुखी
    Reuters
    ग्वाटेमाला ज्वालामुखी

    चार इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षा के लिहाज़ से मास्क पहनने की हिदायत दी गई है. विस्फोट से कूल 1.7 मीलियन लोगों पर असर पड़ा है.

    ग्वाटेमाला ज्वालामुखी
    Reuters
    ग्वाटेमाला ज्वालामुखी

    प्रभावित इलाकों के लोग अपने-अपने घरों को छोड़कर अस्थाई राहत शिविरों में शरण ले रहे हैं.

    ग्वाटेमाला
    AFP
    ग्वाटेमाला

    ग्वाटेमाला के हवाई अड्डे का रनवे ज्वालामुखी से निकली राख से भर गया है. इसे हटाने के लिए सेना को लगाया गया है.

    ग्वाटेमाला
    Reuters
    ग्वाटेमाला

    इससे पहले फरवरी में भी एक विस्फोट हुआ था, जिसमें निकली राख आसमान में 1.7 किलोमीटर ऊपर तक गई थी. लेकिन इस बार हुए ज्वालामुखी विस्फोट में राख बहुत ज़्यादा निकली.

    ग्वाटेमाला
    AFP
    ग्वाटेमाला

    फ्यूएगो ज्वालामुखी में और विस्फोट होने का खतरा है.

    ग्वाटेमाला
    Reuters
    ग्वाटेमाला

    ये भी पढ़े...

    ग्वाटेमाला: ज्वालामुखी फटने से 62 मौतें, बचाव अभियान जारी

    किम जोंग उन का इस ज्वालामुखी से क्या नाता है?

    ज्वालामुखी की ताकत के सामने बेबस इंसान

    यह है दुनिया का सबसे हिंसक शहर

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    BBC Hindi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Guatemala volcano lava ash and devastation

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X