शॉटगन शत्रुघ्न सिन्हा ने किया है बड़ा हमला, राष्ट्रपति उम्मीदवार पर बड़ा बयान

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi
    Shatrughan Sinha says 80% of BJP members wanted LK Advani as President | वनइंडिया हिंदी

    नई दिल्ली। बिहारी बाबू यानि शॉटगन शत्रुघ्न सिन्हा का अपनी ही पार्टी पर लगातार हमला जारी है। इस बार सिन्हा ने बड़ा बयान दिया है, उन्होंने कहा कि देश के अगले राष्ट्रपति के तौर पर पार्टी के 80 फीसदी लोग लालकृष्ण आडवाणी को आगे करना चाहते थे, लोग चाहते थे कि आडवाणीजी ही देश के राष्ट्रपति बने। लालकृष्ण आडवाणी को सिन्हा ने अपना दोस्त, मार्गदर्शक, दार्शनिक बताते हुए कहा कि वही मेरे अंतिम नेता है। आपको बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा ने राष्ट्रपति चुनाव से पहले जब भाजपा की ओर से उम्मीदवार का ऐलान नहीं हुआ था तो उन्होंने ट्विटर पर आडवाणी के पक्ष में अभियान चलाया था।

    नरेंद्र मदोी के खिलाफ थे सिन्हा

    नरेंद्र मदोी के खिलाफ थे सिन्हा

    गौरतलब है कि 2013 में जब नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री का उम्मीदवार घोषित नहीं किया गया था तो आडवाणी उस गुट की अगुवाई कर रहे थे जिसका मानना था कि मोदी को पीएम उम्मीदवार नहीं घोषित करना चाहिए, खुद शत्रघ्न सिन्हा ने इस बात का समर्थन किया था। हालांकि इस गुट की राय को स्वीकार नहीं किया गया था और नरेंद्र मोदी को पीएम पद का उम्मीदवार घोषित कर दिया गया था, जिसके बाद पार्टी को प्रचंड जीत हासिल हुई और नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री बने।

    किया गया किनारे

    किया गया किनारे

    मोदी के पीएम बनने के बाद पार्टी के भीतर एक नई परंपरा शुरू हुई मार्गदर्शक मंडल की और लालकृष्ण आडवाणी की पार्टी के भीतर सलाहकार की भूमिका को खत्म कर दिया गया। यही नहीं खुद शत्रुघ्न सिन्हा को भी पार्टी ने धीरे-धीरे किनारे लगा दिया और उन्हें पार्टी के अहम कार्यक्रमों से बाहर रखा जाने लगा। यहां तक कि मूलरूप से बिहार से आने वाले सिन्हा को पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह के कार्यक्रम में भी न्योता नहीं दिया गया।

    मिलने का समय नहीं दिया गया

    मिलने का समय नहीं दिया गया

    शत्रुघ्न सिन्हा लगातार पार्टी के भीतर रहते हुए सरकार की नीतियों की आलोचना करते रहे हैं, हालांकि उन्होंने कभी भी पार्टी छोड़ने की बात नहीं कही। उन्होंने कहा कि मेरी पहली और आखिरी पार्टी भाजपा है, मैं पार्टी में उस वक्त आया था जब पार्टी में सिर्फ दो सांसद थे। खुद को मंत्री नहीं बनाए जाने पर भी सिन्हा ने अपरोक्ष रूप से पीएम मोदी और अमित शाह पर निशाना साधा, उन्होंने कहा कि पार्टी अब टू मेन आर्मी है। उन्होंने कहा कि मैंने पीएम मोदी और अमित शाह से मिलने की कोशिश की लेकिन मुझे मिलने का समय नहीं दिया गया।

    इसे भी पढ़ें- अरविंद केजरीवाल की चोरी हुई कार गाजियाबाद में लावारिस हालत में मिली

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Shatrughan Sinha says 80 percent party men were in support of Lal Krishna Advani as next President. He says I will always be with BJP.

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.