• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

जनसंख्या नीति से लेकर जातिवाद पर चोट तक..., जानिए विजयदशमी पर RSS प्रमुख मोहन भागवत के भाषण की बड़ी बातें

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 05 अक्टूबर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत ने बुधवार को महाराष्ट्र के नागपुर में विजयादशमी समारोह में संबोधन किया। इस दौरान उन्होंने महिलाओं को सशक्त बनाने की बात की। उन्होंने कहा कि बिना महिलाओं को सशक्त बनाए "एक समाज प्रगति नहीं कर सकता"। आपको बता दें कि RSS की तरफ से दो बार माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली पहली महिला पर्वतारोही संतोष यादव यादव को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया था। आरएसएस के 100 सालों के इतिहास में यह पहली बार है, जब कार्यक्रम में किसी महिला को बुलाया गया था। ऐसे में आइए जानते हैं, आरएसएस प्रमुख के भाषण से जुड़ी 5 बड़ी बातें....

rss chief

1- कार्यक्रम में संबोधन के दौरान उन्होंने जनसंख्या नीति पर ध्यान देने की जरूरत पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि जनसंख्या को संसाधनों की आवश्यकता होती है। ऐसे में यदि यह संसाधनों के निर्माण के बिना बढ़ती है, तो एक बोझ बन जाती है। उन्होंने जनसंख्या को एक संपत्ति के तौर भी बताया और कहा कि हमें दोनों पहलुओं पर ध्यान देकर काम करना होगा।

2- आरएसएस प्रमुख ने हिंदू राष्ट्र की आवधारणा पर भी बात रखी। उन्होंने कहा "हिंदू राष्ट्र की अवधारणा पर हर जगह चर्चा की जा रही है। कई लोग अवधारणा से सहमत तो हैं, लेकिन 'हिंदू' शब्द के विरोध में हैं और दूसरे शब्दों का उपयोग करना पसंद करते हैं। ऐसे में हमें इससे कोई दिक्कत नहीं है। लेकिन अवधारणा की स्पष्टता के लिए - हम अपने लिए हिंदू शब्द पर जोर देते रहेंगे।

3- अपने संबोधन के दौरान आरएसएस प्रमुख ने फेक न्यूज और आतंकवादियों गतिविधियों को बढ़ावा देने वालों पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि कुछ लोग नकली आख्यान फैलाते हैं, अराजकता को प्रोत्साहित करते हैं, आपराधिक कृत्यों में लिप्त होते हैं, आतंक, संघर्ष और सामाजिक अशांति को भड़काते हैं। ऐसे लोग सनातन धर्म के लिए खतरा बन रहे हैं।

4- आरएसएस प्रमुख ने वैश्विक स्तर पर भारत की बढ़ी हुई साख पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि दुनिया में हमारी प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता बढ़ी है। जिस तरह से हमने श्रीलंका की मदद की और यूक्रेन-रूस संघर्ष के दौरान हमारे रुख ने स्पष्ट कर दिया कि अब हमारी वैश्विक स्तर पर सुनी जा रही है।

5- आरएसएस प्रमुख ने कोरोनावायरस के बाद भारत के आर्थिक रिकवरी की भी बात की। उन्होंने कहा कि बैंकों की तरफ से इस बात का जिक्र किया गया है कि आने वाले समय में हमारी अर्थव्यस्था तेजी से विकास करेगी। इसक एलावा उन्होंने अपने संबोधन में स्पोर्ट्स की उपलब्धियों का भी जिक्र किया।

आपको बता दें कि कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी मौजूद थे। आरएसएस का यह कार्यक्रम रेशमीबाग में कड़ी सुरक्षा के बीच हुआ। सुरक्षा की दृष्टि से शहरभर में लगभग 4,000 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।

ये भी पढ़ें- CM जगन मोहन रेड्डी ने कहा - पिछली सरकार की तुलना में आरोग्यश्री पर सरकारी खर्च तीन गुना बढ

Comments
English summary
rss chief mohan bhagwat dussehra speech Hindu Rashtra women empowerment read full speech
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X