• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राकेश टिकैत ने पूछा-आखिर दीप सिद्धू ने लाल किले पर झंडा फहराया कैसे, पुलिस ने क्यों नहीं की फायरिंग?

|

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस के दिन किसानों द्वारा निकाली गई ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा के वक्त लाल किले पर फहराये गए धार्मिक झंडे के लिए जहां किसानों ने एक तरफ सामाजिक कार्यकर्ता और पंजाबी फिल्मों के अभिनेता दीप सिद्धू को जिम्मेदार ठहराया है। वहीं, दूसरी तरफ भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैट ने पुलिस पर दीप सिद्धू पर अभी तक कोई कार्रवाई न किये जाने का भी आरोप लगाया।

    Delhi Violence: Farmer Leaders के खिलाफ Lookout Notice जारी, Passport होगा जब्त | वनइंडिया हिंदी

    Rakesh Tikait

    उन्होंने मीडिया द्वारा दीप सिद्धू के बारे में पूछे जाने पर कहा, "कोई वहां जाता है और झंडा फहराता है, कोई फायरिंग क्यों नहीं की गई? पुलिस कहां थी? वह वहां कैसे गया? पुलिस ने उसे जाने की अनुमति दी और उसे गिरफ्तार नहीं किया। अभी भी कुछ नहीं किया गया है। वह व्यक्ति कौन था जिसने पूरे समुदाय को परेशान किया।" जबकि इससे पहले गाजीपुर बॉर्डर पर धरनास्थल पर बिजली कटने से नाराज टिकैत ने धमकी दी थी कि अगर कोई अप्रिय घटना होती है तो उसके लिए सरकार जिम्मेदार होगी। उन्होंने कहा कि धरना स्थल पर बिजली काट दी जाती है। अगर आगे भी बिजली काटी गई तो प्रदर्शनकारी स्थानीय पुलिस थानों में पहुंच जाएंगे।

    Farmers Protest: दिल्ली पुलिस ने राकेश टिकैत को जारी किया नोटिस, पूछा- क्यों न करें कानूनी कार्रवाई

    गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस पर केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों द्वारा निकाली गई ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हिंसा भड़क गई थी, जिसमें सार्वजनिक संपत्ति को काफी नुकसान हुआ। रैली के दौरान किसानों ने सभी नियम कानूनों को ताक पर रखकर मनमानी की और लालकिले की प्राचीर पर एक धार्मिक झंडा भी फहराया। इस दौरान किसानों ने पुलिसकर्मियों के साथ हिंसक झड़पें भी कीं, जिसमें दिल्ली पुलिस के कई जवान बुरी तरह घायल हो गये। अब लाल किले पर फहराए गए धार्मिक झंडे के लिए किसान संगठनों ने दीप सिद्धू को आरोपी ठहराया है।

    वहीं, दीप सिद्धू को बीजेपी सांसद सनी देओल का भी करीबी बताया जा रहा है। किसान दीप सिद्धू को सरकार का करीब बताकर कह रहे हैं कि इस आंदोलन को सरकार के करीबियों ने भटकाया है। वहीं दीप सिद्धू ने इस मामले पर फेसबुक लाइव के माध्यम से सफाई देते हुए कहा, "कौन सी हिंसा की गई। हमने लाल किले में किसी प्रापर्टी को नुकसान नहीं पहुंचाया।" दिल्ली पुलिस के बारे में सिद्धू ने कहा कि, "पुलिस ने हमें कहा कि जो करना है, शांतिपूर्वक करो और यहां से जाओ।" भाजपा और आरएसएस से रिश्तों पर सिद्धू ने कहा कि ये सब गलत है। उन्होंने कांग्रेस से भी रिश्तों को नकारा।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Rakesh Tikait asked- How did Deep Sidhu hoist the flag at the Red Fort, why did the police not shoot?
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X