• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर पीएम मोदी ने जताया शोक, बोले समाज के सभी वर्गों ने उनकी प्रशंसा की

|

नई दिल्ली। भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन हो गया है। सोमवार शाम को 84 साल की उम्र में प्रणब मुखर्जी ने अंतिम सांस ली। प्रणब मुखर्जी पिछले कई दिनों से बीमार थे। कई दिनों से अस्‍पताल में भर्ती थे। पिछले दिनों प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। कई दिनों से उन्‍हें वेन्‍टीलेटर पर रखा गया था। प्रणब मुखर्जी के पुत्र अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर प्रणब मुखर्जी के निधन की जानकारी दी।

पीएम मोदी बोले- समाज के सभी वर्गों द्वारा प्रणब मुखर्जी की प्रशंसा की गई

पीएम मोदी बोले- समाज के सभी वर्गों द्वारा प्रणब मुखर्जी की प्रशंसा की गई

रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भारत के पूर्व राष्‍ट्रपति और भारत रत्न प्रणब मुखर्जी के निधन पर शोक जताया। पीएम मोदी ने शोक व्‍यक्त करते हुए कहा कि उन्‍होंने हमारे राष्ट्र के विकास पथ पर एक अमिट छाप छोड़ी है। एक विद्वान व्यक्ति उत्कृष्टता, एक विशाल राजनेता, वह राजनीतिक स्पेक्ट्रम और समाज के सभी वर्गों द्वारा उनकी प्रशंसा की गई। नरेन्‍द्र मोदी ने शोक व्‍यक्‍त करते हुए प्रणब मुखर्जी के साथ अपनी दो फोटो भी शेयर की।

    Pranab Mukherjee Passed Away: President, PM Modi ने जताया शोक | Abhijeet Mukherjee | वनइंडिया हिंदी
    राजनाथ सिंह ने कहा- प्रणब दा का देहावसान एक युग की समाप्ति है

    राजनाथ सिंह ने कहा- प्रणब दा का देहावसान एक युग की समाप्ति है

    प्रणब मुखर्जी के निधन पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि ये उनके लिए निजी नुकसान है। राजनाथ सिंह ने अपने ट्वीट में कहा कि प्रणब मुखर्जी सभी लोगों के बीच सम्मानित थे। उनको अलग-अलग क्षेत्रों की जैसी जानकारी थी, वो कमाल थी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करते हुए लिखा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वर्गवास के बारे में सुनकर हृदय को आघात पहुंचा। उनका देहावसान एक युग की समाप्ति है। डॉ. मुखर्जी के परिवार, मित्र-जनों और सभी देशवासियों के प्रति मैं गहन शोक-संवेदना व्यक्त करता हूं। उन्होंने आगे लिखा कि असाधारण विवेक के धनी, भारत रत्न मुखर्जी के व्यक्तित्व में परंपरा और आधुनिकता का अनूठा संगम था। 5 दशक के अपने शानदार सार्वजनिक जीवन में वो उच्च पदों पर आसीन रहते हुए भी सदैव जमीन से जुड़े रहे। अपने सौम्य और मिलनसार स्वभाव के कारण राजनीतिक क्षेत्र में वे भी सर्वप्रिय थे।

    राष्‍ट्रप‍ति ने कहा- प्रणब मुखर्जी के व्यक्तित्व में परंपरा और आधुनिकता का अनूठा संगम था

    राष्‍ट्रप‍ति ने कहा- प्रणब मुखर्जी के व्यक्तित्व में परंपरा और आधुनिकता का अनूठा संगम था

    देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी उनके निधन पर दुख व्यक्त किया है, साथ ही उनके लोक हित के कार्यों की सराहना की। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करते हुए लिखा कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के स्वर्गवास के बारे में सुनकर हृदय को आघात पहुंचा। उनका देहावसान एक युग की समाप्ति है। डॉ. मुखर्जी के परिवार, मित्र-जनों और सभी देशवासियों के प्रति मैं गहन शोक-संवेदना व्यक्त करता हूं। उन्होंने आगे लिखा कि असाधारण विवेक के धनी, भारत रत्न मुखर्जी के व्यक्तित्व में परंपरा और आधुनिकता का अनूठा संगम था। 5 दशक के अपने शानदार सार्वजनिक जीवन में वो उच्च पदों पर आसीन रहते हुए भी सदैव जमीन से जुड़े रहे। अपने सौम्य और मिलनसार स्वभाव के कारण राजनीतिक क्षेत्र में वे भी सर्वप्रिय थे।

    Pranab Mukherjee Passes Away: पढ़ें 'बड़े बाबू' से देश के सबसे बड़े पद तक सफर

    2019 में भारतरत्‍न से नवाजे गए थे प्रणब मुखर्जी

    2019 में भारतरत्‍न से नवाजे गए थे प्रणब मुखर्जी

    प्रणब मुखर्जी भारतीय राजनीति की अमूल्‍य निधि थे। वो कई बार केंद्रीय मंत्री और दूसरे बड़े पदों पर रहे। इसके बाद भारत के राष्ट्रपति भी रहे। कई मौकों पर उनको प्रधानमंत्री पद का भी दावेदार माना गया। पिछले साल अगस्त में प्रणब मुखर्जी को भारत रत्न दिया गया था।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    PM Modi mourns the death of former President Pranab Mukherjee, saying that all sections of society praised him
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X