• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ये रही पालघर के 101 आरोपियों की पूरी सूची जो गृहमंत्री ने जारी की, एक भी मुस्लिम नहीं

|

मुंबई। पालघर में हुई मॉब लिंचिंग की घटना के बाद लोगों के अंदर जबरदस्त गुस्सा है, सोशल मीडिया पर लोग उद्धव ठाकरे की सरकार पर बड़े सवाल उठा रहे हैं तो वहीं इस मामले में पुलिस ने करीब सौ से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है। इस बीच पालघर लिंचिंग केस में महाराष्ट्र् के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि इस मामले में जितने लोग गिरफ्तार हुए हैं, उनमें एक भी मुस्लिम नहीं है।

    Palghar Lynching case: Maharashtra Govt ने जारी की आरोपियों के नाम की लिस्ट | वनइंडिया हिंदी
    'गिरफ्तार किए गए 101 आरोपियों में एक भी मुस्लिम नहीं'

    'गिरफ्तार किए गए 101 आरोपियों में एक भी मुस्लिम नहीं'

    राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने बुधवार को कहा कि करीब गिरफ्तार किए गए 101 आरोपियों में एक भी मुस्लिम नहीं है और उन्होंने आरोप लगाया कि विपक्ष इसे सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश कर रहा है, ये बेहद दुर्भाग्य की बात है , उन्होंने फेसबुक के माध्यम से अपने संबोधन में कहा कि कुछ लोग मुंगेरी लाल के हसीन सपने देख रहे हैं। यह राजनीति करने का समय नहीं है, बल्कि मिलकर कोरोना वायरस से लड़ने का वक्त है।

    यह पढ़ें: Covid 19: सीएम उद्धव ठाकरे के बंगले पर तैनात पुलिसकर्मी मिलीं कोरोना पॉजिटिव: Mumbai Police

    ये है पूरी लिस्ट

    देशमुख ने कहा कि सीआईडी के एक विशेष आईजी स्तर के अधिकारी इस मामले की जांच कर रहे हैं। मगर मैं यह बताना चाहूंगा कि पुलिस ने क्राइम के 8 घंटे के भीतर 101 लोगों को गिरफ्तार किया। हम आज व्हाट्सएप्प के जरिए आरोपियों के नाम जारी कर रहे हैं, उस सूची में कोई मुस्लिम नहीं है।

    क्या है पूरा मामला

    क्या है पूरा मामला

    दरअसल महाराष्ट्र के पालघर में बीते गुरुवार को ग्रामीणों ने तीन लोगों को चोर समझकर पीट-पीटकर मार डाला था। मृतकों की पहचान 35 वर्षीय सुशीलगिरी महाराज, 70 वर्षीय चिकणे महाराज कल्पवृक्षगिरी और30 वर्षीय निलेश तेलगड़े के रूप में हुई है, निलेश साधुओं का ड्राइवर था। ये तीनों लोग मुंबई से सूरत किसी की अंत्‍येष्टि में शामिल होने जा रहे थे। पालघर जिले के एक गांव में 100 से ज्यादा लोगों की भीड़ इन पर टूट पड़ी।

     तीनों को पीट-पीटकर मार डाला

    तीनों को पीट-पीटकर मार डाला

    ग्रामीणों ने पुलिस की गाड़ी पर भी हमला किया था, बताया गया है कि इस पूरे इलाके में कुछ दिनों से बच्‍चा चोर गिरोह की अफवाह फैली हुई थी। बस लोगों ने इन्‍हें इसी गिरोह से संबंधित समझा और बिना सोचे समझे हमला करना शुरु कर दिया और तीनों को पीट-पीटकर मार डाला, जिसके बाद उद्धव ठाकरे लगातार विरोधियों के निशाने पर है।

    यह पढ़ें: मॉब लिचिंग पर भड़के जावेद अख्तर, कहा- सभ्य समाज में बर्बरता बिल्कुल बर्दाश्त नहीं

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Maharashtra Minister Anil Deshmukh on Wednesday said none of the 101 people arrested in connection with the Palghar lynching case is a Muslim, Here is full list.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X