• search

इस मुस्लिम लड़की ने तोड़ दी परंपरा, पब में करती है ऐसा काम कि जानकर दंग रह जाएंगे आप

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

    नई दिल्‍ली। तुम ये नहीं कर सकती, तुम्‍हें ये करना चाहिए क्‍योंकि औरत हो। ऐसा इसलिए क्‍योंकि समाज में अभी भी महिलाओं पर पाबंदिया ज्‍यादा हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश के सहारनपुर की रहने वाली एक मुस्‍लिम महिला ने इन बेडि़यों पर बिल्‍कुल भी ध्‍यान नहीं दिया और वो कर गई जिसपर उसे फक्र होता है। आज वो अपने काम से थोड़ी शोहरत और थोड़े पैसे दोनों हासिल कर रही है। जी हां उनका नाम मेहरून्निशा शौकत अली है और वो दिल्ली के हौज खास के एक फेमस पब में बाउंसर के तौर पर काम करती हैं। आईए आपको मेहरून्निशा की जिंदगी के बारे में बताते हैं।

    फौज में जाने का सपना था मेहरून्निशा का

    फौज में जाने का सपना था मेहरून्निशा का

    मेहरून्निशा का ख्वाब आर्मी में जाना या फिर पुलिस अफसर बनना था। लेकिन उनके कट्टरपंथी पिता को उनका ये सपना बिल्‍कुल पसंद नहीं था। उनके पिता शौकत अली इसके सख्त खिलाफ थे। बस उनकी मां उन्हें पढ़ाना चाहती थीं। प्राइमरी स्कूल भेजने में उनकी मां ने ही साथ दिया। बाद में मुश्किल हालात होने पर उनका परिवार दिल्ली आ गया।

    पब में करती हैं नाइट शिफ्ट, मस्‍ती करने वाले मर्दों पर होती है पैनी नजर

    पब में करती हैं नाइट शिफ्ट, मस्‍ती करने वाले मर्दों पर होती है पैनी नजर

    30 साल की मेहरून्निशा करीब एक दशक से बाउंसर है और पिछले तीन साल से हौज खास के सोशल नाम के पब में 10 घंटे की नाइट शिफ्ट करती हैं। महिला को पब में होने वाली लड़ाइयां को रोकने, महिला कस्टमर्स को बाहर निकालने और अवैध ड्रग को पकड़ने में महारत हासिल है।

    प्रियंका चोपड़ा, प्रीति जिंटा और विद्या बालन की सुरक्षा में रह चुकी हैं

    प्रियंका चोपड़ा, प्रीति जिंटा और विद्या बालन की सुरक्षा में रह चुकी हैं

    मेहरून्निशा बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा, प्रीति जिंटा और विद्या बालन की सुरक्षा के लिए काम कर चुकी हैं। वह महिलाओं की सुरक्षा और उनसे से जुड़े अंधविश्वासों को खत्म करने का काम कर रही है।

    मेहरून्निशा की बहन भी करती हैं बाउंसर का काम

    मेहरून्निशा की बहन भी करती हैं बाउंसर का काम

    मेहरून्निशा की छोटी बहन 27 वर्षीय तरन्नुम भी एक बार में बाउंसर के रूप में भी काम करती है। वे दोंनों एक महीने में 30,000 रुपये कमा लेती हैं। वे बताती हैं, दोनों को अपने पेशे पर बहुत गर्व है और खासकर एक क्लब में महिलाओं की सुरक्षा पर काम करना आसान नहीं है। छुट्टियों के दौरान भी वे ये काम करती हैं।

    हर दिन जिम में बहाती हैं पसीना

    हर दिन जिम में बहाती हैं पसीना

    हर दिन जिम में एक घंटे तक पसीना बहाकर वे अपनी ताकत का निर्माण करती है। अन्य महिलाओं का कहना है कि वे क्लबों में अपने आप को सुरक्षित महसूस करती हैं, क्योंकि मेहरुन्निशा काफी अच्छा काम कर रही है।

    क्‍यों खास है मेहरून्निशा का यह काम

    क्‍यों खास है मेहरून्निशा का यह काम

    मेहरुन्निसा का काम इसलिए ध्यान खींचता है। क्योंकि ये उस समाज से आती हैं। जहां थोड़ी दूर के लिए भी लड़की के साथ उसके छोटे से भाई को साथ कर दिया जाता है, जाओ बहन के साथ चले जाओ। अब बाहर जाने में कुछ अनहोनी हो जाए तो बहन को खुद को तो छोड़िए, अपने भाई को भी बचाना पड़ जाए। ये मानसिकता होती है औरत के लिए। जिसका सीधा सा मतलब होता है कि वो औरत है वो अपनी सुरक्षा नहीं कर सकती।

    जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Joking with clients and colleagues, Mehrunnisha Shokat Ali might be mistaken for any other patron of the Social watering hole in the Indian capital's swanky Hauz Khas neighbourhood.

    Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
    पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.

    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more