• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कृषि कानूनों के विरोध में किसान मजदूर संघर्ष समिति ने किया पंजाब में काली दिवाली मनाने का ऐलान

|

नई दिल्‍ली। केन्‍द्र में बैठी मोदी सरकार संसद के मानसून सत्र में तीन कृषि बिल लेकर आई थी, जो काफी हंगामे के बाद दोनों सदनों में पास हो गया था। जिसके बाद में राष्ट्रपति ने इस पर हस्ताक्षर भी कर दिए। जिसके बाद ये नया कानून पूरे देश में लागू हो गया। इस बिल के खिलाफ देशभर में किसानों का आंदोलन अभी भी जारी है। पिछले दिनों पंजाब में किसान मजदूर संघर्ष समिति से जुड़े लोग सड़कों पर उतरे और जमकर प्रदर्शन किया। वहीं बुधवार कोृ किसान मजदूर संघर्ष समिति पंजाब के सदस्यों ने अमृतसर के अंतर्राज्यीय टर्मिनल पर यात्री बसों पर काले झंडे और पोस्टर लगाए।

pic

केन्‍द्र सरकार द्वारा लाए गए 3 कृषि कानूनों के विरोध में बसों पर काले झंडे और पोस्‍टर लगाने के साथ ही किसान मजदूर संघर्ष समिति के एक प्रदर्शकारी ने कहा '' हम पंजाब में इस साल काले दिवाली मना रहे हैं।

गैरतलब है कि 5 नवंबर को किसान मजदूर संघर्ष समिति ने मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए सड़क पर उतर कर प्रदर्शन किया था। इस दौरान दोपहर 12 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक वो अमृतसर-दिल्ली राजमार्ग ब्लॉक रखा था। सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने के लिए राजमार्ग को ब्लॉक किया। ये प्रदर्शन 46 जगहों पर किया गया था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Kisan Mazdoor Sanghargh Committee Punjab members put black flags & posters on passenger buses
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X